मेरठ: दुर्घटना बीमा योजना के लाभार्थियों को मिली दो-दो लाख रूपये की आर्थिक मदद

 
मेरठ। जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह समाधान दिवस की गरिमा एवं उसके उद्देश्य को फलीभूत करें और शिकायतों का पूर्ण गम्भीरता के साथ समयबद्ध निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी सुनिश्चित करें अधिकतर शिकायतों का निस्तारण तहसील समाधान दिवसों में ही हो और पीडि़तों/फरियादिायों त्वरित एवं गुणवत्तापरक न्याय दिलायें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने लाभार्थी संतोष व रूची त्यागी को दुर्घटना बीमा योजना के तहत मण्डी समिति द्वारा दिये गये 2-2 लाख रूपये के चैक वितरित किये।
तहसील समाधान दिवस में आज मुख्यत: राजस्व विभाग, पुलिस, विकास विभाग, नगर पालिका, समाज कल्याण, कृषि, पंचायत, सहित विभिन्न विभागों की शिकायती पत्र/प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। तहसील समाधान दिवस में विकलांग एवं चिकित्सा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में अनेकों लोगो ने अपना स्वस्थ्य परीक्षण कराकर दवायें प्राप्त कीं। इस अवसर पर जिलाधिकारी अनिल ढींगरा द्वारा तहसील सरधना के प्रांगण में बेटी बचाओं-बेटी पढाओं अभियान के तहत संचालित जागरूकता वैन का अवलोकन किया तथा जादूगर बी. सम्राट द्वारा रोचक पूर्ण एवं हैरतअंगेज जादू के माध्यम से लोगो को बेटी के उपयोगिता, भू्रण हत्या एक अपराध, बेटी एक लक्ष्मी का रूप, बेटी बिना समाज है अधूरा आदि जागरूकता कार्यक्रमों को देखा व अन्यों को इसके प्रति जागरूक करने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी, मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा० राज कुमार, एडीएम वित्त आनन्द कुमार, उप जिलाधिकारी सरधना राकेश कुमार सिंह, परियोजना निदेश भानू प्रताप सिंह, डीडीओ अतुल मिश्रा, डीपीआरओ आलोक शर्मा सहित तहसीलदार सरधना सीओ सरधना संतोष कुमार सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

From around the web