मेरठ: नोटिस के माध्यम से युवक ने दिया पत्नी को तलाक

 
मेरठ। पति व अन्य ससुरालियों के उत्पीडऩ के चलते अपने मायके में रह रही पीरजादगान निवासी एक विवहिता को उसके पति ने नोटिस के माध्यम से तलाक दे दिया है। एक वकील के माध्यम से उसने यह तलाक नामा उसके यहां पहुंचा। विवाहिता ने उक्त नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया तो आरोपी पति ने उसके मायके में ही आकर उसे व उसकी मायूम बच्ची को बुरी तरह पीटा और जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गया। पीडि़ता ने पति सहित 13 लोगों के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई थी।
पीरजादगान निवासी हुमा पुत्री इस्लाम की शादी 9 वर्ष पूर्व गांव अगवानपुर थाना किला परीक्षितगढ़ निवासी युवक से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही दहेज के लिए ससुरालियों ने उसका मानसिक व शारीरिक उत्पीडऩ शुरू कर दिया। आरोप है कि इसी बीच उसके पति के किसी अन्य महिला के साथ सम्बंध हो गए। उसने इसका विरोध किया तो पति ने उसे यातनाएं देनी शुरू कर दी, साथ ही इसका फिर से विरोध करने पर उसे तलाक की धमकी दी। बाद में ससुरालियों ने उसे मारपीटकर घर से निकाल दिया। उसने पति व अन्य ससुरालियों के खिलाफ परीक्षिगढ़ थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। तब से ही हुमा अपने मायके में रह रही है। इसी बीच उसके पति ने उसको नोटिस के माध्यम से तलाक नामा भेजा। उसने उक्त नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया तो बीती 15 दिसम्बर को वह अपने मायके में अकेली थी। परिवार के सदस्य बाहर गए हुए थे। इसी बीच उसका पति व अन्य ससुरालिए उसके घर पर धमके। आरोप है कि उन्होंने आते ही उसे व उसकी मासूम बच्ची को एक कमरे में बंद करके बुरी तरह पीटा। उन्होंने शोर मचाया तो मोहल्ले के लोग वहां आ गए, जिन्हें आता देख आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देकर वहां से फरार हो गए। पीडि़त हुमा ने परिजनों संग थाने पहुंचकर पुलिस को मामले से अवगत कराया और पति सहित 13 लोगों के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने तहरीर के आधार पर पति हनीफ, ससुर निजामुददीन, सास मोमीना, जुबैर, ओसामा, आकिब, नूरू, मेहरुनिसा, नसीम, शहनाज, रिहाना, मोबीन व बिलाल निवासी श्यामनगर मेरठ के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

From around the web