मेरठ: समझौते का दवाब बनाने के लिए पीडि़त पक्ष पर ही कर दिया मुकदमा दर्ज

 
मेरठ। भावनपुर क्षेत्र के दर्जनों दलित समाज के लोग शनिवार को एसएसपी के आवास पर पहुंचे। उन्होंने भावनपुर एसओ के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जमकर हंगामा किया। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि एसओ ने दूसरे पक्ष के साथ मिलकर सांठ-गांठ कर ली है, जिस कारण वह पीडि़त पक्ष पर दवाब बनाने के लिए झूठा मुकदमा दर्ज कर लिया। एसएसपी ने जांच के बाद कार्यवाही का भरोसा दिया है।
भावनपुर थानाक्षेत्र गढ़ रोड़ स्थित भोपाल विहार की रहने वाली राजेन्द्री पत्नी राम किशोर ने बताया कि 27 सितंबर को उसके पुत्र भूपेन्द्र के साथ उसके पडौसी राजेश व उनके परिजनों ने बुरी तरह से मारपीट की थी। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज कर लिया था। पीडि़ता ने आरोप लगाया कि भावनपुर के एसओ ने दूसरे पक्ष अनिल चौहान के साथ सांठ-गांठ कर ली है, जिसके चलते पुलिस ने पीडि़त पक्ष पर ही फर्जी मुकदमा दर्ज कर लिया। पीडि़ता ने कहा कि उक्त मामले में एसओ की भूमिका संदिग्ध है, जिसकी जांच कर कार्यवाही की जानी चाहिए। प्रदर्शनकारियों में डा. सतीश प्रकाश, डा. सुशील गौतम सहित दर्जनों महिलाएं व पुरूष भी शामिल रहे।

From around the web