मेरठ: पैरवी के लिए जेल से फरार बदमाश ने लिखी थी सुरंग कांड की स्क्रिप्ट

 
मेरठ। टीपी नगर पुलिस ने एक सप्ताह पूर्व बैंक में सुरंग खोदकर लूट करने वाले दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार मुकदमे की पैरवी और घर के खर्चे पूरे करने के लिए पूरी घटना की स्क्रिप्ट जेल से फरार एक शातिर ने लिखी थी।
एसपी सिटी मानसिंह चौहान ने पत्रकार वार्ता करते हुए बताया कि बीती 19 अगस्त की रात को दिल्ली रोड स्थित यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में सुरंग खोदकर लूट करने की घटना में सुरेन्द्र पुत्र जयसिंह निवासी नई बस्ती और सुशील उर्फ सुनील पुत्र ब्रहमदास निवासी शास्त्रीनगर को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने बताया कि बैंक में लूट की योजना बीती 28 अगस्त को जेल से फरार हुए संदीप पुत्र रज्जू निवासी भावनपुर और उसके साले संदीप उर्फ चिंटू पुत्र फुस्सन ने बनाई थी। लूट की रकम से आरोपियों को अपने मुकदमों की पैरवी करनी थी और घर का खर्च चलाना था। योजना के तहत चारों आरोपी 18 सितंबर इंडिका कार से मौके पर पहुंचे और चिन्टू ने सुरंग खोदनी शुरू की, वहीं सुशील उसे टार्च दिखा रहा था। काम पूरा न होने पर आरोपी अगले दिन फिर बैंक पहुंचे और सुरंग खोदकर बैंक में दाखिल हुए, लेकिन स्ट्रांग रूम का ताला न टूटने पर पहचाने जाने के डर से कम्पयूटरों की हार्ड डिस्क और कैमरों की डीवीआर निकाल लाए। पकड़े गए आरोपियों के पास से सुरंग खोदने के औजार बरामद हुए हैं, वहीं लूटा गया सामान फरार आरोपी संदीप और उसके साले चिन्टू के पास बताया गया है।
एसपी सिटी ने बताया कि आरोपी पहले भी इसी तरह की कई वारदातों को अन्जाम दे चुके हैं तथा इन पर विभिन्न थानों में दर्जनों मुकदमें दर्ज हैं। पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ जारी है तथा मुख्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

From around the web