पाकिस्तान के नारे लगाने पर भीलवाड़ा में पीएफआई का पूर्व जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

 
ं

भीलवाड़ा। भीलवाड़ा में करीब 6 माह पूर्व पाकिस्तान के नारे लगाने के बहुचर्चित मामले में पीएफआई के पूर्व जिलाध्यक्ष अब्दुल सलाम को गिरफ्तार किया है। उपनगर सांगानेर में तब रैली में नारे लगाते लोगों का एक वीडियो भी सामने आया था। वीडियो की फोरेंसिक जांच के बाद सोमवार रात आरोपी की गिरफ्तारी की गई। इस मामले में 15 मई 2022 को एक युवक ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

सुभाष नगर थाना प्रभारी नंदलाल रिणवा ने बताया कि 15 मई को सांगानेर के रहने वाले नेमीचंद पुत्र बाबूलाल खटीक ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट में बताया था कि एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। जिसमें 500 से ज्यादा लोग रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते नजर आ रहे हैं। युवक ने रिपोर्ट में विरोधी देश के इस तरह से नारे लगाने से देशभक्ति के लिए गलत बताया और कार्रवाई की मांग की थी।

थाना प्रभारी ने बताया कि वीडियो को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया था। सोमवार को इसकी रिपोर्ट आने पर वीडियो सही पाया गया। जांच में सामने आया कि रैली 7 फरवरी 2021 में पीएफआई के सिंबल पर वार्ड 57 से चुनाव जीतने वाले नाथूलाल राव के लिए निकाली गई थी। रैली का नेतृत्व पीएफआई के पूर्व जिलाध्यक्ष अब्दुल सलाम अंसारी ने किया था। रैली में शामिल लोग पाकिस्तान के नारे लगाते हुए साफ नजर आ रहे है। इस पर पीएफआई के पूर्व जिलाध्यक्ष अब्दुल सलाम अंसारी को गिरफ्तार किया गया। इस मामले को लेकर तब भीलवाड़ा में प्रदर्शन भी हुए तब मुकदमा दर्ज कर जांच करायी गयी अब जांच आने पर गिरफ्तारी हो पायी है।

From around the web