एक जून से गाड़ियों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस और बैंकिंग सेक्टर में होंगे कई बड़े बदलाव

 
म

नई दिल्ली। एक जून, 2022 से देशभर में गाड़ियों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस और बैंकिंग सहित कई बदलाव होने वाले हैं। जून माह की पहली तारीख से हो रहे इस बदलाव का सीधा असर आपकी जेब और जिंदगी पर पड़ेगा। इसलिए ये जरूरी है कि इन नियमों की जानकारी आप पहले ही अपने पास रखें। एक जून से ऐसे होने वाले छह बदलावों के बारे में हम आपको बता रहे हैं, जिनका असर आप पर पड़ेगा।

गाडि़यों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस हो जाएगा महंगा

एक जून से दोपहिया और चार पहिया वाहनों के साथ-साथ अन्य बड़े वाहनों का थर्ड पार्टी बीमा महंगा होने वाला है। ऐसे में आपको थर्ड पार्टी बीमा के लिए ज्यादा प्रीमियम देना होगा। दोपहिया वाहनों के मामले में 150 सीसी से 350 सीसी तक के वाहनों के लिए 1,366 रुपये बतौर प्रीमियम देना होना, जबकि 350 सीसी से अधिक के वाहनों के लिए प्रीमियम 2,804 रुपये होगा।

एक जून से गोल्ड हॉलमार्किंग का दूसरा चरण

स्वर्ण आभूषणों की अनिवार्य हॉलमार्किंग का दूसरा चरण शुरू होगा। एक जून, 2022 से 256 पुराने जिलों के अलावा 32 नए जिलों में भी हॉलमार्किंग सेंटर्स खोले जाएंगे। इन सभी 288 जिलों में सोने के गहनों की हॉलमार्किंग अनिवार्य हो जाएगी। इन जिलों में अब 14, 18, 20, 22, 23 और 24 कैरेट के गहने भी हॉलमार्किंग के बाद ही बेचे और खरीदे जा सकेंगे।

स्टेट बैंक से होम लोन लेना हो जाएगा महंगा

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने अपने होम लोन एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट (ईबीएलआर) को 0.40 फीसदी बढ़ाकर 7.05 फीसदी कर दिया है, जबकि रेपो-लिंक्ड लेंडिंग रेट (आरएलएलआर) बढ़कर 6.65 फीसदी प्लस क्रेडिट जोखिम प्रीमियम (सीआरपी) हो जाएगा। एसबीआई की बढ़ी हुई ब्याज दरें एक जून से प्रभावी होंगी, जिससे होम लोन की ब्याज दरों में इजाफा होगा। बता दें कि इससे पहले ईबीएलआर 6.65 फीसदी थी, जबकि आरएलएलआर 6.25 फीसदी थी।

एक्सिस बैंक बचत खाता के नियमों में बदलाव

एक्सिस बैंक के बचत खाता पर लगने वाले सर्विस चार्ज भी बढ़ने वाला है। बैंक ने एक जून से बचत खाता में न्यूनतम बैलेंस रखने की सीमा में बढ़ोतरी की है। इसके तहत सेमी अर्बन और ग्रामीण इलाकों के ग्राहकों को एक्सिस बैंक के सभी तरह के बचत खातों में 15 हजार रुपये की जगह न्यूनतम 25 हजार रुपये रखने होंगे या फिर 1 लाख रुपये का टर्म डिपॉजिट रखना होगा।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक में लेन-देन पर फीस

जून महीने में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के जरिए लेनदेन करना भी महंगा हो जाएगा। आईपीपीबी ने 15 जून, 2022 से नगद लेनदेन फीस लेने का फैसला किया है। नए नियमों के तहत हर महीने पहले तीन नकद निकासी, नकद जमा और मिनी स्टेटमेंट लेने पर कोई शुल्क नहीं देना होगा हैं। मुफ्त लेन-देन के बाद प्रत्येक नकद निकासी या नकद जमा पर 20 रुपये और जीएसटी लगेगा, जबकि एक मिनी स्टेटमेंट लेनदेन पर 5 रुपसे प्लस जीएसटी देना होगा।

घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें बदल जाएंगी

देश की सार्वजनिक क्षेत्र की सरकारी तेल विपणन कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी सिलेंडर की कीमतें तय करती हैं। कीमतों में इजाफा भी हो सकता है और राहत भी मिल सकती है। ऐसे में 1 जून को सिलेंडर की कीमतों में बदलाव हो सकता है। इससे पहले 1 मई, 2022 को 19 किलोग्राम वाले कॉमर्शियल एलपीजी सिलेंडर 102 रुपये महंगा हुआ था।

From around the web