मुज़फ्फरनगर में सेना भर्ती रैली में जोश के साथ दौडे अग्रिवीर, आज हापुड़ के युवक लेंगे भाग 

 
न


मुजफ्फरनगर। शहर में मंगलवार से शुरू हुई अग्निवीर सेना भर्ती रैली में पहले दिन गौतमबुद्धनगर, दादरी व जेवर तहसील के युवाओं ने अपना दमखम दिखाया। स्टेडियम में हल्की बूंदाबादी के बीच सुबह 4 बजे से ही दस हजार युवकों ने दौड में भाग लिया। कडी सुरक्षा के बीच सेना के अधिकारियों ने अभ्यर्थियों के सभी कागजातों की गहनता से जांच के बाद ही स्टेडियम में प्रवेश करने दिया। दौड के दौरान बारिश के चलतें स्टेडियम में कीचड होने से कई युवा फिसलकर चोटिल भी हो गए।

बुधवार सुबह को हापुड, धौलाना व गढमुक्तेश्वर के युवा सेनाभर्ती में भाग लेंगे, जो रेल व बसों से शहर में पहुंच गए हैं। सेनाभर्ती में शामिल होने के लिये बडी संख्या में युवा शहर में पहुंच गये  है, जिनके ठहरने व खाने की व्यवस्था केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान ने शहर के उद्यमियों के साथ मिलकर की है। भर्ती के लिए चौधरी चरण सिंह स्पोट्र्स स्टेडियम को सेना के हवाले कर दिया गया था, स्टेडियम की चारदीवारी पर तारबंदी की गई है। इस दौरान यातायात व्यवस्था में भी परिवर्तन किया गया है, जिसके चलते  जाट कॉलोनी के

न

 

लोगों का आवागमन अब सरकुलर रोड से होगा। मेरठ रोड पर रूट डायवर्जन प्लान लागू कर दिया गया। कडी जांच के बाद छह बजे से अभ्यर्थियों को नुमाइश मैदान पर प्रवेश मिला। पुलिस और सेना के अधिकारियों के साथ स्टेडियम और नुमाइश ग्राउंड का अधिकारियों ने निरीक्षण किया और सेना भर्ती के लिए की जा रही तैयारियों का जायजा लिया। ड्यूटी प्वाइंट, बैरिकेडिंग, पार्किंग स्थल और भर्ती स्थल पर अभ्यर्थियों के लिए की गई जलपान, प्रकाश एवं चिकित्सा व्यवस्था देखी। ग्राउण्ड तक पहुंचने के लिए की गई यातायात व्यवस्था का निरीक्षण किया।

अधिकारियों को निर्देश दिए कि सेना भर्ती के दौरान भ्रमणशील रहे। नुमाइश कैंप के बराबर वाली सड़क से सभी युवक भर्ती स्थल के लिए पहुंचे, लेकिन इससे पहले सभी युवकों के प्रवेश पत्र की तीन बार जांच पड़ताल हुई। जाट कॉलोनी से नुमाइश कैंप व स्टेडियम की तरफ सड़क पर आने जाने पर प्रतिबंध रहा और सड़क पर बैरिकेडिंग की गई। पैदल आने पर भी प्रतिबंध लगाया गया। भर्ती स्थल से अंदर एक रास्ता स्टेडियम में जाता है, वहां भर्ती की अंतिम प्रक्रिया पूरी हुई और अनफिट युवकों को स्टेडियम के बराबर वाले

न

गेट से बाहर भेजा जा रहा है। चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स स्टेडियम के आसपास के करीब 25 मकान मालिकों को नोटिस जारी किए गए थे। पुलिस ने निर्देश दिए हैं कि अपने घर में किसी को न ठहरने दें। छतों पर किसी को न जाने दें और भर्ती की वीडियो और फोटोग्राफी अपने घर से नहीं करने दें। अगर नियमों का पालन नहीं किया, तो कार्रवाई की जाएगी। पुलिस नियमित रूप से गलियों का भ्रमण कर रही है।

इस बीच केन्द्रीय मंत्री डा. संजीव बालियान ने शहर के उद्यमियों भीमसेन कंसल, राकेश बिंदल व समाजसेवी टीमों के साथ मिलकर युवाओं के ठहरने व खाने की व्यवस्था वेदांता फार्म में की है। बडी संख्या में युवा शहर में पहुंच रहे हैं। रेलवे स्टेशन व रोडवेज पर युवाओं की भीड दिखाई दी। इस दौरान कडी सुरक्षा व्यवस्था देखने को मिली। पुलिस भी युवकों को स्टेडियम का रास्ता दिखाने में लगी रही। केंद्रीय मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान जिले में अग्निवीर भर्ती को लेकर व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे, जहां पर अभ्यार्थियों द्वारा मोदी जिंदाबाद, योगी जिंदाबाद और संजीव बालियान जिंदाबाद के नारे लगाए, जिसे देख संजीव बालियान गदगद हो उठे।

From around the web