भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत ने दी चेतावनी दी - बात करनी है, तो कर लो नहीं तो हम शहीद होने के लिए भी तैयार

 
नरेश

मुज़फ्फरनगर- भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि सरकार समय रहते किसानों की समस्याओं को बातचीत से हल करें। हम सरकार से बातचीत के लिए तैयार है। बशर्ते सरकार भी खुले मन से बात करें। साथ ही यह भी चेतावनी दी कि बात करनी है, तो कर लो, नहीं तो हम शहीद होने के लिए भी तैयार हैं। उन्होंने कहा कि सरकार इस इलाके को नक्सलवाद की तरफ धकेलना चाहती है। गांव काकड़ा के इंटर कालेज में आयोजित हज़ारों की किसान मजदूर पंचायत में बालियान खाप के बाबा चौधरी नरेश टिकैत ने मौजूद किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि गठवाला खाप सर्वश्रेष्ठ खाप है। पंचायत में मौजूद गठवाला खाप के सातों थांबेदारो का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि यूनियन के गठन में खापों का महत्वपूर्ण योगदान है। चुनौती बहुत हैं, हमें मिलजुलकर मुकाबला करना है। बिजली की भी विकट समस्या हो रही है। बिजली के रेट कहीं कुछ तो कहींं कुछ हैं। सरकार बिजली पर पॉलिसी तय कर ले नहीं तो शहरों की भी बिजली बंद कर देंगे। खेतों के बीच से जा रहे खम्बे उखाड़ कर बिजली बंद कर देंगे। उन्होंने सरकार को दो टूक शब्दों में कहा कि या तो किसानों की समस्याओं को बातचीत से हल कर ले, नहीं तो किसान गोली खाने को भी तैयार है। उन्होंने किसानों से शहीदी जत्था भी तैयार रखने का आह्वान किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को कहा कि यदि दोस्ती करनी है तो शेरो से करो गीदड़ों से क्या करोंगे, जो हमारे नहीं हुए तुम्हारे क्या होंगे। जिन्होंने अपने वजन के बराबर यूनियन का नमक खाया हो वे गद्दार तुम्हारे क्या होंगे। उन्होंने 16 से 18 जून तक हरिद्वार में होने वाली पंचायत में भी अधिक से अधिक संख्या में पहुंचने का आह्वान किया। भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि खापों से ही आंदोलन चला व खाप के लोगों ने मुकाबला किया। उन्होंने समाज मे फ़ैली बुराइयों जैसे कन्या भ्रूण हत्या, पर्यावरण, नशाखोरी आदि पर भी ध्यान देने को कहा। सरकार किसान आंदोलन को दबाना चाहती है। उन्होंने बिजली पॉलिसी भी निर्धारित करने को कहा। सरकार को चेतावनी दी, कि सरकार कान खोलकर सुन लें यदि बिना बताए मीटर लगाने का प्रयास किया, तो मीटर उखाड़ कर थानों में जमा करा देंगे। सरकार तोडफ़ोड़ की राजनीति कर रही है। फर्जी मुकदमे कर किसानों को डराने का काम कर रही है। सरकार बातचीत से समस्याओं का हल करें। पूरा देश यूनियन के साथ है। यूनियन व संगठन को मजबूत रखें। उन्होंने पंचायत में मौजूद खाप चौधरियों को आश्वस्त किया कि यूनियन आपके बताए पदचिन्हों पर चलती रहेगी। सर्वखाप मंत्री सुभाष बालियान ने पंचायत में मौजूद किसानों को कहा कि एकता व देश की अखंडता में खापों का हमेशा योगदान रहा है। देश पर जितने भी आक्रमणकारी आये खापों ने उनका डटकर मुकाबला किया। उन्होंने सरकार से किसानों के 8 मुद्दों पर बातचीत करने को कहा, जिनमें एमएसपी पर सरकार संयुक्त मोर्चे से बात करे। आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमे वापस हो तथा शहीद किसानों को मुआवजा व एक सरकारी नौकरी मिले। जमीनी विवाद को निपटाने में सहयोग करे। कन्या भ्रूण हत्या, दहेज प्रथा पर कड़ा कानून बनाये। बेटियों की शिक्षा सुनिश्चित

करे। युवाओ को नशे से दूर रखें। स्वस्थ पर्यावरण बनाने में सहयोग करें। किसानों की आय दुगनी करने को योजना निर्धारित करें। मजदूरों की आय भी दुगनी करने में सहयोग करें। पंचायत को किसान नेता युद्धवीर सिंह, पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, शुभम मलिक, श्यामसिंह मलिक, देशवाल खाप के चौधरी सुरेंद्र सिंह, गठवाला खाप के थांबेदार रविन्द्र सिंह , जितेंद्र सिंह धामा, हरियाणा विधायक अमरजीत सिंह ने भी सम्बोधित किया। पंचायत की अध्यक्षता राठी खाप के चौधरी ब्रह्मसिंह राठी व संचालन विकास बालियान, अमित बालियान, रामपाल सिंह व विपिन सोरम ने किया। पंचायत में दूर दराज से आये हजारो किसानों ने भाग लिया। पंचायत में सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। पंचायत में सर्वसमाज के सभी खाप चौधरियों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया । केन्द्रीय मंत्री डा. संजीव बालियान का किसी भी वक्ता ने नहीं किया जिक्र किसान मजदूर पंचायत के दौरान क्षेत्रीय सांसद का किसी भी वक्ता ने कोई जिक्र नहीं किया। हालांकि चौधरी नरेश टिकैत व राकेश टिकैत ने भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को योगी जी कहकर संबोधित किया, साथ ही यह भी कहा कि वे किसानों की समस्याओं के हल के लिए बातचीत के लिए तैयार है। चौधरी नरेश टिकैत के सम्बोधन के दौरान कहा कि शेरों से दोस्ती करो गीदड़ों से नहीं। इससे राजनीतिक हलकों में कयास लगाया जा रहा है कि यूनियन में हुए दो फाड़ से भाकियू सुप्रीमो व भाकियू प्रवक्ता के सुरों में सरकार के प्रति नरमाहट महसूस हो रही है, जबकि पूरी पंचायत के दौरान किसी भी वक्ता ने क्षेत्रीय सांसद डॉ. संजीव बालियान का कोई भी जिक्र तक नहीं किया। गांव काकड़ा में आयोजित सर्व समाज के खाप चौधरियों के अलावा खाप के थांबेदारो ने भाग लिया। सभी चौधरियो ने भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी

 

 

नरेश टिकैत के प्रति आस्था व्यक्त करते हुए कहा कि हम सब बाबा नरेश टिकैत के हमेशा साथ रहे हैं और आगे भी साथ रहेंगे। जिनमें मुख्य रूप से सतपाल सिंह राठी खाप, राजबीर सिंह मुंडेट, शरण वीर सिंह देशवाल खाप, अमित बेनीवाल, उपेंद्र, सचिन बुडिय़ांन, विनय बत्तीसा खाप, गजेंद्र सिंह अहलावत खाप, सतबीर सिंह, श्यामसिंह बहावड़ी थांबेदार गठवाला, रविन्द्र मलिक लांक , वीरसेन मलिक फुगाना, रविन्द्र सिंह, आजादवीर सिंह पुरा महादेव, महिपाल सिंह लिसाढ़, कर्णसिंह खरड़, बालियान खाप से संजय सिंह बरवाला, सौदान सिंह हरसोली, मांगेराम सोरम, स्वर्णकार समाज से विनोद कुमार, गोस्वामी समाज से चेतन सिंह, हरिजन समाज से रेकपाल सिंह, उपाध्याय समाज से ब्रह्मपाल, सैन समाज से विनोद कुमार, लुहार समाज से यूनुस, तेली समाज से अलीशेर, विश्वकर्मा समाज से सुभाष चौधरी, वैश्य समाज से कमल मित्तल, धोबी समाज के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

From around the web