असम-मेघालय सीमा पर गोलीबारी, वन रक्षक सहित चार की मौत, कई घायल

 
r

कार्बी आंगलोंग (असम)। असम-मेघालय सीमा पर असम के कार्बी आंगलोंग जिला में हुई गोलीबारी में वनरक्षक सहित चार लोगों की मौत हो गई। घटना मंगलवार सुबह हुई जब वन विभाग की टीम ने असम-मेघालय सीमा पर पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिला (असम) के मोइकरोंग इलाके में तस्करी की लकड़ी से लदे ट्रक को रोकने की कोशिश की। मृतक वनरक्षक की पहचान विद्या सिंह के रूप में की गयी है। एक अन्य वनरक्षक अभिमन्यु घटना में घायल हो गये। दूसरी ओर, लकड़ी तस्करी के आरोपित तीन मृतक खासी समुदाय बताए गए हैं, लेकिन अभी तीनों की पहचान नहीं हुई है।

जानकारी के अनुसार वन विभाग की टीम ने आज तड़के मइकरोंग इलाके में तस्करी की गई लकड़ी से लदे ट्रक को जब्त करने का प्रयास किया। ट्रक रुका नहीं, बल्कि उसकी रफ्तार और तेज हो गई। हालांकि, वनरक्षक टीम ने किसी तरह ट्रक के एक टायर को पंक्चर कर उसे रोका और तीन लोगों को हिरासत में ले लिया। वनरक्षक तस्करी की लकड़ी से लदे मिनी ट्रक को जिरिकिंग ले आए।

इस बीच, लकड़ी जब्त होने और तीन लोगों की गिरफ्तारी की सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची और ट्रक को जिरिकिंग पुलिस स्टेशन ले गई। इसी दौरान मौके से लकड़ी से लदे मिनी ट्रक को थाने ले जाते समय तस्करों के एक समूह ने पुलिस व वनरक्षकों पर हमला कर दिया। आत्मरक्षा में पुलिस को गोलियां चलानी पड़ी। इसमें एक फॉरेस्ट गार्ड समेत चार लोगों की मौत हो गई।

इस बीच, पश्चिम कार्बी आंगलोंग के पुलिस अधीक्षक इमदाद अली घटना की जांच के लिए टीम के साथ मौके पर पहुंच गए हैं। खबर लिखे जाने तक इलाके में तनाव का माहौल है।

दूसरी ओर, मेघालय पक्ष ने आरोप लगाया कि असम पुलिस ने जयंतिया पहाड़ जिला के लास्किन ब्लॉक के मुकरोह गांव में स्थानीय प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई व काफी लोग घायल हो गए।

From around the web