सत्तापक्ष का बर्ताव लोकतंत्र के लिए खतरा: मल्लिकार्जुन खड़गे

 
DFF

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूछताछ के लिए गुरुवार को 12.30 पर बुलाया था। इस बात की सूचना आज खुद खड़गे ने राज्यसभा में दी। उन्होंने कहा कि सत्ता पक्ष का ऐसा बर्ताव लोकतंत्र के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।

खड़गे ने राज्यसभा में कहा कि वह कानून का पालन करना चाहते हैं लेकिन क्या ऐसे समय में ईडी को नोटिस देना चाहिए जब सदन चल रहा हो? खड़गे ने सदन में केन्द्र सरकार को घेरते हुए कहा कि करते हुए कहा कि क्या पुलिस बल से सोनिया गांधी और राहुल गांधी के आवास का घेराव करना सही है? खड़गे ने कहा कि सत्ता पक्ष का ऐसा बर्ताव लोकतंत्र के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।

खड़गे के इस बयान पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि किसी भी जांच एजेंसी पर केन्द्र सरकार की ओर से कोई दबाव नहीं है। वह स्वतंत्र रूप से काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि कांग्रेस के शासनकाल में जांच एजेंसियों पर दबाव बनाए जाते रहे हों, हम कुछ भी ऐसा नहीं कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि आज कांग्रेस क पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी केन्द्र सरकार पर कई गंभीर सवाल खड़े किए हैं। राहुल ने कहा कि केन्द्र सरकार कांग्रेस को चुप कराने के लिए डरा रही है लेकिन पार्टी जनता के हितों के मुद्दे उठाती रहेगी। हम किसी दबाव में आने वाले नहीं है। राहुल ने कहा कि सच को कोई बेरीकेड रोक नहीं सकता है। देश की रक्षा करने, लोकतंत्र की रक्षा करने, देश में भाईचारे को कायम रखने का काम कांग्रेस करती रहेगी।

From around the web