जगदीप धनखड़ होंगे नए उपराष्ट्रपति, विपक्ष की उम्मीदवार मारग्रेट अल्वा को हराया

 
न

नयी दिल्ली- राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रत्याशी जगदीप धनखड़ को देश‌ का 14वां उप राष्ट्रपति चुन लिया गया है।

संसद भवन में शनिवार को हुए उप राष्ट्रपति चुनाव में श्री धनखड़ को 528 मत मिले हैं। चुनाव में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा 182 मत लेने में कामयाब रहीं।

उप राष्ट्रपति चुनाव अधिकारी और लोकसभा महासचिव उत्पल कुमार सिंह ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कुल 780 वोटों में से श्री धनखड़ को 528 और श्रीमती अल्वा को 182 मत मिले हैं। शेष 15 वोट अवैध करार दिये गये हैं।

मौजूदा उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है।

उप राष्ट्रपति चुने जाने पर श्री धनखड़ को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू,उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुभकामनाएं दी हैं।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने श्री जगदीप धनखड़ को देश का नया उपराष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई दी है।

राष्ट्रपति ने कहा है कि देश को उनके लंबे सार्वजनिक जीवन और अनुभव का लाभ मिलेगा।

श्री धनखड़ की शनिवार को उपराष्ट्रपति चुनाव में विजय के बाद श्रीमती मुर्मू ने ट्वीट कर उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा,“भारत का उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने पर जगदीप धनखड़ को बधाई। देश को आपके लंबे सार्वजनिक जीवन और अनुभव का लाभ मिलेगा। सार्थक और सफल कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं।”

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के नव निर्वाचित उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से मुलाकात करके उन्हें बधाई दी।

उपराष्ट्रपति चुनाव की मतगणना पूरी होने एवं परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद श्री मोदी श्री धनखड़ के निवास पर पहुंचे। प्रधानमंत्री के साथ संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा भी थे।

श्री धनखड़ ने प्रधानमंत्री, संसदीय कार्य मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष का स्वागत किया।

निवर्तमान उपराष्ट्रपति एम वेंकैैया नायडू ने ट्वीटर पर अपने बधाई संदेश में कहा, “देश के 14वें उपराष्ट्रपति के रूप में निर्वाचन पर श्री जगदीप धनकड़ जी को हार्दिक बधाई और सफल कार्यकाल के लिए मेरी शुभकामनाएं। सार्वजनिक जीवन में आपके लंबे अनुभव तथा न्याय और विधि के क्षेत्र में आपके ज्ञान से देश लाभान्वित होगा।”

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने श्री धनखड़ को बधाई देते हुए कहा कि उनका दीर्घ सार्वजनिक जीवन आमजन के कल्याण को समर्पित रहा है। राजस्थान के छोटे से गांव ‘किठाना’ के किसान-पुत्र की उपराष्ट्रपति पद तक की यात्रा प्रेरणादायी है।

उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान शनिवार को संसद भवन में संपन्न हुआ। सुबह 10:00 बजे से लेकर शाम 5:00 बजे तक चले इस मतदान में संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा के सदस्यों ने मतदान किया। मतदान के पश्चात मतगणना आरंभ हुई और करीब आठ बजे निर्वाचन अधिकारी लोकसभा के महासचिव उत्पल कुमार सिंह ने एक संवाददाता सम्मेलन में परिणाम की घोषणा की कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदीप धनखड़ को देश‌ का अगला उप राष्ट्रपति चुन लिया गया है। कुल 780 वोटों में से श्री धनखड़ को 528 और श्रीमती अल्वा को 182 मत मिले हैं। शेष 15 वोट अवैध करार दिये गये हैं।

उपराष्ट्रपति चुनाव के निर्वाचक मंडल में दोनों सदनों के सांसद शामिल है। फिलहाल राज्यसभा की 245 सीटों में से आठ सीटें रिक्त है। इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति चुनाव के मतदान में अनुपस्थित रहने का फैसला किया। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल राजनीतिक दलों के संसद में 441सदस्य हैं। इनमें से 394 भारतीय जनता पार्टी के हैं। राज्यसभा में पांच नामित सदस्यों ने भी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार का समर्थन करने का निर्णय लिया। इसके अलावा बीजू जनता दल, वाईएसआर कांग्रेस पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, तेलुगू देशम पार्टी, शिरोमणि अकाली दल, शिवसेना- एकनाथ शिंदे गुट ने भी श्री धनखड़ का समर्थन करने की घोषणा की थी।

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की उम्मीदवार श्रीमती अल्वा का समर्थन कांग्रेस, द्रविड़ मुन्नेत्र कषगम, राष्ट्रीय जनता दल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, समाजवादी पार्टी और वामदलों ने किया। इसके अलावा झारखंड मुक्ति मोर्चा, तेलंगाना राष्ट्र समिति, आम आदमी पार्टी, शिवसेना -उद्धव ठाकरे गुट ने भी श्रीमती अल्वा का समर्थन करने का ऐलान किया था।

From around the web