नेपाल : मलबा गिरने से हजारों भारतीय पर्यटक फंसे

 
efg

महराजगंज। नेपाल में लगातार तीन दिन तक भारी बारिश होने से पहाड़ों के दरकने का सिलसिला चल पड़ा। इससे पोखरा तथा चितवन से गुजरने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग कई जगह मलबा से जाम हो गया है। वाहनों की रफ्तार तो थामी ही है, भारी संख्या में भारतीय पर्यटक भी फंसे हैं। हालात यह है कि पर्यटकों के साथ बच्चे और महिलाएं भूख से परेशान हैं। ये सभी पर्यटक भारतीय वाहनों समेत फंसे हैं।

ज्ञातव्य हो कि भारतीय पर्यटकों भारी संख्या में नेपाल के पोखरा और काठमांडू समेत विभिन्न शहरों के लिए आते जाते रहते हैं। श्रावण मास में काठमांडू स्थित पशुपतिनाथ का दर्शन करने भी जाते हैं, लेकिन इस बार सावन में हो रही बारिश ने मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। पिछले तीन दिनों से लगातार होने वाली बारिश ने भारतीय पर्यटकों को सांसत में डाल दिया है। पहाड़ों के टूट कर सड़कों पर जमा मलबे ने यातायात व्यवस्था को चौपट कर दिया है। हालात यह हैं राजमार्गों पर ही वहां खड़े हो गए हैं और पर्यटकों भूख प्यास से तड़फड़ा रहे हैं। बताया जा रहा है कि सबसे ज्यादा बच्चों और महिलाओं की हालत खराब है। भारी संख्या में भारतीय वाहनों में सवार भारतीय पर्यटक हजारों की संख्या में फंस गए हैं। बताया जा रहा है कि रास्ते में फंसे भारतीय पर्यटक पिछले 24 घंटे से भूखे प्यासे तड़प रहे हैं। महिलाओं और छोटे-छोटे बच्चों की हालत बहुत खराब है।

नेपाल के पोखरा जाने वाले मार्ग तिखरंगा-पानीपतमन और नारायणगढ़-मुगलिन रोड पर भारी मात्रा में पहाड़ का मलबा जमा है। इसी तरह भरतपुर महानगर पालिका के वार्ड नंबर-29 के केराबाड़ी के सामने से गुजरने वाले स्थित राजमार्ग पर भी पहाड़ों का मलबा जमा हो गया है। फिलहाल, इस मलबे को हटाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के सफाई कर्मियों को लगाया गया है। लगातार हो रही बारिश की वज़ह से सफाई कर्मियों को मलबा हटाने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

From around the web