राकैश टिकैत पर स्याही फेंकने के खिलाफ सिसौली में पंचायत, नरेश टिकैत ने कही ये बड़ी बात

 
सज

मुजफ्फरनगर। कर्नाटक के बेंगलुरु में भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत पर हमला किया गया और चेहरे पर स्याही फेंकी गई। इसके विरोध में भाकियू में उबाल है। इस प्रकरण को लेकर सिसौली में सोमवार देर शाम पंचायत आयोजित की गई।

आपको बता दें कि बेंगलुरु में सोमवार को जिस समय चौ. राकेश टिकैत के ऊपर स्याही फेंकी गई उस समय वह पत्रकार वार्ता कर रहे थे। स्याही के छीटे चौधरी युद्धवीर सिंह के ऊपर भी पड़े हैं। स्याही फेंके जाने के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई और एक दूसरे पर कुर्सियां फेंकी गई। बताया जा रहा है कि एक स्टिंग ऑपरेशन के मामले में राकेश टिकैत ने अपना पक्ष रखने के लिए पत्रकार वार्ता बुलाई थी। इसी दौरान दूसरे गुट के लोगों ने हमला कर स्याही फेंकी है।

राकेश टिकैत पर हुए हमले के बाद देर शाम सिसौली में आपातकाली बैठक बुलाई गई, जिसमें भाकियू अध्यक्ष चौ. नरेश टिकैत ने कहा कि इस वक्त लोगों में सरकार के खिलाफ आक्रोश है। उन्होने कहा कि अभी तो सिर्फ स्याही फेंकी गई है, आगे गोली भी चलाई जा सकती है, लेकिन टिकैत परिवार इसके लिए तैयार है।

नरेश टिकैत ने कहा कि राकेश टिकैत पर कर्नाटक में हुए हमले की सरकार जिम्मेदार है, जिससे भाकियू कार्यकर्ता गुस्से में हैं। कल देशभर में किसान प्रदर्शन कर जिलाधिकारी को ज्ञापन देंगे । इस मामले में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए, जिससे आरोपियों को को सजा मिले।

भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि हम पूरे मामले की तह में जाने का प्रयास कर रहे हैं। यह घटना निंदनीय है और लोकतंत्र के खिलाफ है। इससे किसानों में आक्रोश है।

From around the web