भारत आजाद है लेकिन हम गुलाम : इमरान खान

 
हगहग
इस्लामाबादपाकिस्तान की मौजूदा संघीय गठबंधन सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि अमेरिकी गुलामों ने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में वृद्धि की, जबकि भारत ने रूस से सस्ता तेल खरीदा और कीमतें कम की। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष ने रविवार को चारसद्दा के शेखाबाद में एक कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि इससे पता चलता है कि भारत स्वतंत्र है लेकिन हम पाकिस्तानी गुलाम हैं।

इमरान खान ने स्वतंत्र विदेश नीति का पालन करने के लिए भारत की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद रूस से कच्चे तेल का आयात किया।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने रूस के साथ 30 प्रतिशत रियायती दरों पर तेल खरीदने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए, लेकिन हमारी सरकार को एक साजिश के तहत हटा दिया गया।

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान की तेज प्रगति के लिए एक स्वतंत्र विदेश नीति जरूरी है।

उन्होंने चेतावनी दी कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह और पंजाब के मुख्यमंत्री हमजा शहबाज को शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों को प्रताड़ित करने और उनके घरों पर छापेमारी करने के लिए देश कभी भी उनको माफ नहीं करेगा।

पीटीआई प्रमुख ने दोहराया कि उन सभी को गिरफ्तार किया जाएगा और जल्द ही सलाखों के पीछे भेज दिया जाएगा।

इमरान खान ने कहा कि उनकी पार्टी जल्द ही थोपी हुई सरकार' को गिराने के लिए इस्लामाबाद की ओर मार्च करेगी।

From around the web