नैंसी पेलोसी पहुंचीं जापान, चीन पर बरसीं

 
refgth

टोक्यो। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी जापान दौरे पर पहुंची हैं। उन्होंने कहा कि उनका कार्यक्रम चीन नहीं तय कर सकता। अमेरिका ताइवाान को अलग-थलग करने की चीन की योजना को कभी सफल नहीं होने देगा।

नैंसी ने कहा कि चीन चाहता है कि ताइवान कहीं भी किसी भी मंच पर सहभागिता न दिखा सके। यही वजह है कि चाइना उसको अलग-थलग रखना चाहता है। चीन हमें क्या, किसी को भी ताइवान जाने से रोक नहीं सकता है। नैंसी के एशिया दौरे में जापान उनका आखिरी पड़ाव है।

नैंसी के जापान दौरे पर दोनों देशों ने ताइवान का साथ देने पर सहमति जताई है। जापान का कहना है कि चीन की करीब पांच मिसाइल उसके इकोनामिक जोन में भी गिरी हैं। टोक्यो की तरफ से इस पर कड़ी नाराजगी जताई गई है । शुक्रवार को नैंसी पेलोसी ने जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा से मुलाकात की। किशिदा का कहना है कि चीन की लाइव फायर ड्रिल से उनकी सुरक्षा को भी खतरा खड़ा हो गया है। इस बीच चीन ने कहा है कि वो आसिया सम्मेलन में जापान का बायकाट करेगा। ये सम्मेलन कंबोडिया में होगा।

उल्लेखनीय है कि नैंसी के ताइवान दौरे के बाद चीन ने ताइवान को घेर कर लाइव फायर ड्रिल शुरू की है। यह 7 अगस्त तक चलेगी। गुरुवार को शुरू की गई इस लाइव फायर ड्रिल में करीब 12 डेनफांग मिसाइलों का भी इस्तेमाल किया गया। इस ड्रिल में चीन ने अपने कई अत्याधुनिक युद्धपोतों और विमानों को उतारा है। जापान ने इस फायर ड्रिल का कड़ा विरोध किया है। जापान का कहना है कि इस फायर ड्रिल से गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। ताइवान को भी इस ड्रिल की वजह से अपनी दर्जनों उड़ानों को रद करना पड़ा है।

From around the web