युद्ध शुरू होने के बाद से रूस ने यूक्रेन पर 4,700 मिसाइलें दागीं

 
ु

मॉस्को। रूस ने 24 फरवरी को युद्ध शुरू होने के बाद यूक्रेन में 4,700 से अधिक मिसाइलें लॉन्च की हैं। यह बयान यूक्रेनी राष्ट्रपति वलेडिमिर जेलेंस्की ने दिया है।

रविवार को एक वीडियो संबोधन में राष्ट्रपति ने कहा, "रूस ने युद्ध के 270 दिनों में 4,700 से अधिक मिसाइलों का इस्तेमाल किया है। हमारे सैकड़ों शहरों को जला दिया गया है, हजारों लोग मारे गए। सैकड़ों हजारों को जबरन रूस भेज दिया गया। लाखों लोगों ने युद्ध से भागकर अन्य देशों के लिए यूक्रेन छोड़ दिया।"

यूकेन्इंदा की सूचना के अनुसार, उन्होंने यह भी कहा कि, 20 मिलियन से अधिक लोग 8 नवंबर को बिजली के बिना रह गए थे, जब रूस ने 100 से अधिक मिसाइल हमलों को अंजाम दिया था, जो माना जाता है कि आक्रमण शुरू होने के बाद से मॉस्को की मिसाइल हमलों की सबसे बड़ी लहर है।

"क्या आप जानते हैं कि यह मिसाइल हमला क्या है? यह 20 मिलियन से अधिक लोग बिना बिजली के हैं। इस तरह बिजली व्यवस्था को नुकसान हुआ था, इस तरह की तत्काल आपातकालीन ब्लैकआउट थी।"

उन्हें यह कहते हुए उद्धृत किया था, "मिसाइल के कारण ऊर्जा क्षेत्र को हुए नुकसान के कारण हमारे दो परमाणु ऊर्जा संयंत्रों के रिएक्टर भी बंद हो गए।"

रूसी हमलों ने यूक्रेन की ऊर्जा प्रणाली का लगभग आधा हिस्सा क्षतिग्रस्त कर दिया है और सर्दियों के लिए तापमान में गिरावट के कारण लाखों लोग बिना बिजली के हैं।

यूक्रेन के कई हिस्सों में अनुसूचित और अनिर्धारित दोनों प्रकार के ब्लैकआउट आम हो गए हैं, क्योंकि रूस ऊर्जा बुनियादी ढांचे के कुछ हिस्सों पर मिसाइल हमलों की नियमित लहरों का लक्ष्य रखता है।
 

From around the web