मुंहासों से छुटकारा पाएं
 

- नरेंद्र देवांगन

 
 मुंहासे आमतौर पर युवावस्था की शारीरिक समस्याओं में से एक होती है। मुंहासे युवावस्था में सबसे अधिक होते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए युवक- युवतियां अक्सर इतने तनावग्रस्त रहते हैं कि मर्ज समाप्त होने के बजाए बढऩा शुरू हो जाता है। देखा जाए तो यह एक तात्कालिक अथवा अस्थायी किस्म की समस्या है। मुंहासे चेहरे की सुंदरता को कांतिहीन बना देते हैं। मुंहासों की समस्या कुछ समय बाद स्वयं समाप्त हो जाती है परंतु इसके लिए आपको उनके कारणों को जान कर अपनी दिनचर्या में सुधार लाना होगा। अगर आप मुंहासों की समस्या से ग्रस्त हैं तो आपको पहले यह जान लेना आवश्यक है कि ये होते क्यों हैं? आमतौर पर दिनचर्या में लापरवाही, खानपान और अनियमितता मुंहासों का प्रमुख कारण हैं। शरीर की अतिरिक्त गर्मी, तीव्र रसायन वाले प्रसाधन, मानसिक तनाव, कुछ एलोपैथिक दवाइयां जैसे फार्टीसोन, ब्रोमाइड तथा हार्मोन संबंधी गड़बड़ी की वजह से ही मुंहासे उत्पन्न होते हैं जो चेहरे की सुंदरता को कुरूप बना देते हैं। अगर आपको कब्ज की शिकायत है और आप गरिष्ठ भोजन का सेवन करते हैं तो यह रोग आपको शीघ्र अपने आगोश में ले लेता है। इसके पश्चात यह आपके शरीर के पूरे रक्त को खराब कर देता है। कई महिलाओं की विवाह के बाद मुंहासों की समस्या समाप्त हो जाती है। कुछ लोगों की मुंहासों की समस्या लंबे समय तक बनी रहती है। अगर आप मुंहासों से अपने आपको दूर रखना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ सजगता आवश्यक है। यहां प्रस्तुत है इससे बचने के कुछ उपाय। सबसे पहले आपको अपने दैनिक जीवन में परिवर्तन लाना होगा ताकि आप शारीरिक दोषों से दूर रह सकें। रात का भोजन सोने से तीन घंटे पूर्व अवश्य कर लें। भोजन हल्का एवं संतुलित होना चाहिए। नाश्ते में अंकुरित अनाज एवं दोपहर के भोजन में मिर्च-मसाले वाली चीजें ही लें। सलाद तथा मौसमी फल विशेष रूप से लाभदायक होते हैं। कब्ज से बचाव के लिए प्रात:काल उठ कर एक या दो गिलास ठंडा पानी पीना चाहिए। नियमित भ्रमण भी आवश्यक है। इन उपायों को आजमाने से आपको कभी मुंहासे नहीं होंगे किंतु जो लोग पहले से ही मुंहासों से पीडि़त हैं, उनको भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। नीचे दिए गए उपायों से आप अपनी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। गुलाब जल में नींबू का रस मिला कर चेहरे पर लगाने से मुंहासों से निजात मिलती है और चेहरे पर दाग-धब्बे भी नहीं रहते हैं। शहद में चुटकी भर सेंधा नमक मिला कर कुछ बूंदें सिरके की ले कर सुबह दस मिनट तक चेहरे पर लगाएं। नियमित प्रयोग से मुंहासे समाप्त हो जाएंगे। संतरे के पेड़ की ताजी छाल पीस कर मुंहासों पर लेप करने से यह ठीक हो जाते हैं। जायफल को घिस कर चेहरे पर लगाने से मुंहासे दूर होते हैं। गाजर, टमाटर, संतरे तथा चुकंदर का रस एक-एक चम्मच ले कर सुबह पीने से मुंहासे समाप्त हो जाते हैं और चेहरे पर रौनक आ जाती है। नींबू काट कर उस पर थोड़ा सा नौसादर छिड़क दें। गल जाने पर उसे चेहरे पर रगड़ लें। सूखने पर गर्म पानी से धो लें। कुछ दिनों तक करने से मुंहासे, कील, झाइयां दूर हो जाएंगे।

मुंहासे आमतौर पर युवावस्था की शारीरिक समस्याओं में से एक होती है। मुंहासे युवावस्था में सबसे अधिक होते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए युवक- युवतियां अक्सर इतने तनावग्रस्त रहते हैं कि मर्ज समाप्त होने के बजाए बढऩा शुरू हो जाता है। देखा जाए तो यह एक तात्कालिक अथवा अस्थायी किस्म की समस्या है। मुंहासे चेहरे की सुंदरता को कांतिहीन बना देते हैं। मुंहासों की समस्या कुछ समय बाद स्वयं समाप्त हो जाती है परंतु इसके लिए आपको उनके कारणों को जान कर अपनी दिनचर्या में सुधार लाना होगा। अगर आप मुंहासों की समस्या से ग्रस्त हैं तो आपको पहले यह जान लेना आवश्यक है कि ये होते क्यों हैं?

आमतौर पर दिनचर्या में लापरवाही, खानपान और अनियमितता मुंहासों का प्रमुख कारण हैं। शरीर की अतिरिक्त गर्मी, तीव्र रसायन वाले प्रसाधन, मानसिक तनाव, कुछ एलोपैथिक दवाइयां जैसे फार्टीसोन, ब्रोमाइड तथा हार्मोन संबंधी गड़बड़ी की वजह से ही मुंहासे उत्पन्न होते हैं जो चेहरे की सुंदरता को कुरूप बना देते हैं। अगर आपको कब्ज की शिकायत है और आप गरिष्ठ भोजन का सेवन करते हैं तो यह रोग आपको शीघ्र अपने आगोश में ले लेता है।

इसके पश्चात यह आपके शरीर के पूरे रक्त को खराब कर देता है। कई महिलाओं की विवाह के बाद मुंहासों की समस्या समाप्त हो जाती है। कुछ लोगों की मुंहासों की समस्या लंबे समय तक बनी रहती है। अगर आप मुंहासों से अपने आपको दूर रखना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ सजगता आवश्यक है। यहां प्रस्तुत है इससे बचने के कुछ उपाय।

सबसे पहले आपको अपने दैनिक जीवन में परिवर्तन लाना होगा ताकि आप शारीरिक दोषों से दूर रह सकें। रात का भोजन सोने से तीन घंटे पूर्व अवश्य कर लें। भोजन हल्का एवं संतुलित होना चाहिए। नाश्ते में अंकुरित अनाज एवं दोपहर के भोजन में मिर्च-मसाले वाली चीजें ही लें। सलाद तथा मौसमी फल विशेष रूप से लाभदायक होते हैं।

कब्ज से बचाव के लिए प्रात:काल उठ कर एक या दो गिलास ठंडा पानी पीना चाहिए। नियमित भ्रमण भी आवश्यक है। इन उपायों को आजमाने से आपको कभी मुंहासे नहीं होंगे किंतु जो लोग पहले से ही मुंहासों से पीडि़त हैं, उनको भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। नीचे दिए गए उपायों से आप अपनी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। गुलाब जल में नींबू का रस मिला कर चेहरे पर लगाने से मुंहासों से निजात मिलती है और चेहरे पर दाग-धब्बे भी नहीं रहते हैं।

शहद में चुटकी भर सेंधा नमक मिला कर कुछ बूंदें सिरके की ले कर सुबह दस मिनट तक चेहरे पर लगाएं। नियमित प्रयोग से मुंहासे समाप्त हो जाएंगे। संतरे के पेड़ की ताजी छाल पीस कर मुंहासों पर लेप करने से यह ठीक हो जाते हैं। जायफल को घिस कर चेहरे पर लगाने से मुंहासे दूर होते हैं। गाजर, टमाटर, संतरे तथा चुकंदर का रस एक-एक चम्मच ले कर सुबह पीने से मुंहासे समाप्त हो जाते हैं और चेहरे पर रौनक आ जाती है।

नींबू काट कर उस पर थोड़ा सा नौसादर छिड़क दें। गल जाने पर उसे चेहरे पर रगड़ लें। सूखने पर गर्म पानी से धो लें। कुछ दिनों तक करने से मुंहासे, कील, झाइयां दूर हो जाएंगे।

From around the web