आदिवासी को वनवासी कहकर उन्हें जंगल में ही रखना चाहती है भाजपा: राहुल गांधी

 
ं

अहमदाबाद। सूरत जिले के महुवा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चुनावी सभा में भाजपा पर आदिवासियों के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया। आदिवासी समाज के साथ कांग्रेस और अपनी नानी इंदिरा गांधी के संबंधों का जिक्र कर उन्होंने आदिवासी समाज को साधने का प्रयास किया। इस दौरान उन्होंने अपने भारत जोड़ो यात्रा के अनुभव भी साझा किए। सभा में आदिवासी नृत्य और आदिवासी परंपराओं के साथ राहुल गांधी का स्वागत किया गया।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा के लोग आप आदिवासियों को वनवासी कहते हैं। मतलब की आप सभी आदिवासी जंगल में रहने वाले हो। वे नहीं चाहते हैं कि आप प्रगति करो, आपके बच्चे शहर में रहे, पढ़े और आगे बढ़े। आप आदिवासी भाई-बहन सिर्फ जंगल में रहे, यही भाजपा चाहती है। राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा जंगल उद्योगपतियों को दे देगी। इसके बाद आपलोगों के पास जंगल की जगह भी नहीं बचेगी। महज 2-3 उद्योगपति पूरा जंगल ले लेंगे। भाजपा आप आदिवासियों को हक छीनना चाहती है। आप आदिवासी हैं, वनवासी नहीं। यह देश आपका है। आपकी जमीन और जंगल वापस दिलाने के लिए भाजपा सरकार ने कानून लागू नहीं किया। यही फर्क है उनमें और हमारे में। हमने आपको शिक्षा दी, उन्होंने आपको शिक्षा नहीं दी।

राहुल गांधी ने कहा कि आपके पास विकल्प है कि कांग्रेस आदिवासी और भाजपा वनवासी। एक ओर सुख है, दूसरी ओर दुख है। हम आपके सपने पूरे करेंगे। शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य की सुविधाएं देंगे। हम आपके इतिहास और जीने के हक की रक्षा करेंगे। हमारे पैर में फोड़ा होता है तो भी हम आपकी बात सुनने के लिए पदयात्रा कर रहे हैं। परंतु यह लोग तो हवा में उड़ रहे हैं।

नानी इंदिरा से जाना आदिवासी समाज के बारे में

राहुल ने कहा कि पदयात्रा के दौरान एक राम नाम का युवक मिला। वह उनसे मिलकर रोने लगा। युवक का पूरा परिवार कोरोना में चला गया। वह बेरोजगार है और उसे अब कोई रास्ता नहीं दिखाई देता है। राहुल ने कहा कि आदिवासियों की मां समान जमीन उनसे पूछे बगैर ले ली गई और उद्योगपतियों को दे दी गई। राहुल ने कहा कि आदिवासियों के साथ उनका पुराना संबंध है। छोटे थे तो नानी इंदिरा गांधी ने उन्हें एक किताब दी थी, जो उन्हें बहुत प्रिय थी। उस पुस्तक में फोटो थे, जंगल के विषय में जानकारी थी। नानी उस पुस्तक के बारे में बताती कि इसमें आदिवासी के बारे में जानकारी है। यह हिन्दुस्तान के पहला और असली मालिक हैं। फिर नानी ने बताया कि हिन्दुस्तान को समझना है तो आदिवासियों के जीवन, उनके संबंध जल, जंगल और जमीन से समझो। भारत जोड़ों यात्रा का जिक्र कर राहुल गांधी ने कहा कि लोगों के पैर में छाले पड़ गए। दो लोगों की मौत हो गई, फिर भी यात्रा चालू है। भारत जोड़ने का काम गुजरात के गांधी ने किया था। यह गुजरात का संस्कार है।

From around the web