दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन गिरफ्तार, ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में लिया हिरासत में !

 
सत्येंद्र

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार कर लिया क्योंकि वह चल रही मनी लॉन्ड्रिंग की जांच में केंद्रीय जांच एजेंसी के साथ सहयोग नहीं कर रहे थे। श्री जैन को इस मामले में कथित तौर पर शामिल बताया जा रहा है।

ईडी सूत्रों ने आज यहां यह जानकारी दी।

मामले की देखरेख कर रहे श्री जैन के एक करीबी ने यूनीवार्ता को बताया,“ईडी के अधिकारियों ने हमें बताया कि उन्होंने (जैन) जांच में उनके साथ सहयोग नहीं किया, जिससे जांच एजेंसी को उन्हें गिरफ्तार करने के लिए मजबूर होना पड़ा।”

सूत्रों ने बताया कि श्री जैन को केंद्रीय एजेंसी ने धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) की धाराओं के तहत कोलकाता की एक कंपनी से जुड़े हवाला लेनदेन से संबंधित एक मामले में गिरफ्तार किया है। उनकी गिरफ्तारी एक महीने बाद हुई है जब वित्तीय जांच एजेंसी ने मनी लॉन्ड्रिंग जांच के सिलसिले में श्री जैन के परिवार और कंपनियों की ‘लाभप्रद स्वामित्व वाली और नियंत्रित’ कंपनियों की 4.81 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने अगस्त, 2017 में श्री जैन और उनके परिवार के खिलाफ 1.62 करोड़ रुपये तक की कथित मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। सीबीआई ने आरोप लगाया है कि आप के वरिष्ठ नेता और उनके परिवार ने 2011-12 में 11.78 करोड़ रुपये और 2015-16 में 4.63 करोड़ रुपये के शोधन के लिए चार मुखौटा फर्मों - बिना किसी वास्तविक व्यवसाय वाली कंपनियों की स्थापना की थी। ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच शुरू की।

ईडी ने वर्ष 2018 में शकूर बस्ती के आप विधायक से मामले के सिलसिले में पूछताछ की थी। ईडी ने अपने बयान में कहा, “2015-16 के दौरान, जब श्री जैन एक लोक सेवक थे, उनके स्वामित्व वाली और उनके द्वारा नियंत्रित कंपनियों को हवाला के माध्यम से कोलकाता स्थित प्रवेश ऑपरेटरों को हस्तांतरित नकद के बदले मुखौटा कंपनियों से 4.81 करोड़ रुपये की आवास प्रविष्टियाँ प्राप्त हुईं।” बयान में कहा गया,“इन राशियों का उपयोग सीधे जमीन की खरीद या दिल्ली और उसके आसपास कृषि भूमि की खरीद के लिए किए गए ऋण की अदायगी के लिए किया गया था।”

इस बीच आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हिमाचल में भाजपा बुरी तरह से हार रही है इसीलिए हिमाचल प्रदेश के चुनाव प्रभारी और दिल्ली के कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन को गिरफ़्तार किया गया है।

श्री सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘‘हिमाचल में भाजपा बुरी तरह से हार रही है। इसीलिए सत्येंद्र जैन को आज गिरफ़्तार किया गया है, ताकि वो हिमाचल न जा सकें। वे कुछ दिनों में छूट जाएंगे, क्योंकि केस बिलकुल फ़र्ज़ी है। सत्येंद्र जैन के खिलाफ़ आठ साल से एक फ़र्ज़ी केस चलाया जा रहा है। अभी तक कई बार ईडी बुला चुकी है। बीच में कई साल ईडी ने बुलाना भी बंद कर दिया था, क्योंकि उन्हें कुछ मिला ही नहीं। अब फिर बुलाना शुरू कर दिया, क्योंकि सत्येंद्र जैन हिमाचल के इलेक्शन इंचार्ज हैं।’’

श्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार में श्री जैन स्वास्थ्य, बिजली, गृह, पीडब्ल्यूडी, उद्योग, शहरी विकास, बाढ़, सिंचाई और पानी मंत्री हैं।

From around the web