मोदी की मंडी रैली तय करेगी हिमाचल की चुनावी हवाओं का रुख

 
मोदी की मंडी रैली तय करेगी हिमाचल की चुनावी हवाओं का रुख
मंडी। हिमाचल प्रदेश में चुनाव से पहले शनिवार को मंडी में होने वाली युवा विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ऐतिहासिक पड्डल मैदान से संबोधन के साथ राज्य में चुनावी रणभेरी बज उठेगी। प्रधानमंत्री की इस रैली को आने वाले विधानसभा चुनावों की दस्तक के रूप में भी देखा जा रहा है। देश में पहली बार प्रधानमंत्री युवा मोर्चा की रैली को संबोधित करने के लिए विशेष रूप से आ रहे हैं और इस रैली को सुजानपुर से बदल कर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृहनगर छोटी काशी मंडी में किया जा रहा है। इससे साफ जाहिर होता है कि भाजपा इस रैली के बहाने देश के युवा मतदाताओं को साधने की फिराक में है।

वर्ष 2014 से नरेन्द्र मोदी का जादू युवाओं के सिर चढ़ कर बोल रहा है। देशभर में मोदी लहर के चलते हर चुनावी सभा में मोदी-मोदी का नारा गूंज उठता। नरेंद्र मोदी को लेकर युवाओं में इस जुनून की वजह उस समय यह भी थी कि युवाओं को उनके नेतृत्व में जहां देश के विकास की चमक दिखाई देती थी, वहीं पर बेरोजगारी की मार झेल रहे युवाओं को रोजगार और नौकरियों के द्वार खुलने के भी सपने पाल रखे थे। हर साल दो करोड़ युवाओं को नौकरी देने का वादा भी भाजपा की ओर से किया गया था। मगर आठ साल के कार्यकाल में इस मोर्चे पर नरेंद्र मोदी की सरकार खरी नहीं उतरी तो युवाओं का यह खुमार भी उतरने लगा। कोविडकाल में तो हजारों युवाओं को रोजगार से हाथ भी धोना पड़ा। चुनावी गणित देखें तो देश में युवा मतदाताओं की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। ऐसे में युवाओं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू जगाने के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चा की ओर से प्रधानमंत्री की युवा संकल्प रैली करवाने का फैसला लिया गया।

इस रैली के संबंध में भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद तेजस्वी सूर्या का कहना है कि इस रैली की तैयारी छह माह पहले से ही शुरू कर दी गई थी। यह पहला अवसर है जब प्रधानमंत्री युवा मोर्चा की रैली को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री युवाओं के सामने भविष्य की योजनाओं की रूपरेखा उनके सामने रखेंगे और युवा मतदाताओं को आकर्षित करने का प्रयास करेंगे।

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि मोदी की रैली राज्य में भाजपा का चुनावी शंखनाद होगा। मंडी की यह युवा संकल्प रैली हिमाचल की चुनावी हवाओं का रूख भी तय करेगी। मंडी जहां भाजपा का गढ़ होने के साथ-साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का गृह जिला भी है। यहां की सभी दस सीटों पर भाजपा का कब्जा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के रिवाज बदलने के नारे को सार्थकता प्रदान करने के लिए मंडी जिला में भाजपा को बढ़त मिलना जरूरी है। इस नजरिए से भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह रैली भाजपा के लिए महत्वपूर्ण मानी जा रही है।

From around the web