गाजियाबाद में दिनदहाड़े  22 लाख की लूट को अंजाम देने वाला 50 हजार का इनामी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

 
न

गाजियाबाद। पुलिस अधीक्षक देहात की टीम और लोनी बार्डर थाना पुलिस की सयुंक्त टीम ने रविवार को मुठभेड़ में 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश गिरफ्तार किया है। इसी बीच दूसरा बदमाश भागने में सफल रहा। मुठभेड़ में पुलिस की गोली से बदमाश घायल हुआ है तो एक आरक्षी भी जख्मी है, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। बदमाश के कब्जे से एक तमंचा तथा एक चोरी की मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

पुलिस अधीक्षक देहात राजा ने बताया कि रविवार को पुलिस को सूचना मिली कि बन्थला बंद फाटक की तरफ जाने वाले रोड पर कुछ बदमाश आने वाले हैं। इस सूचना के बाद पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर चेकिंग शुरु कर दी। इस दौरान एक मोटरसाइकिल पर सवार दो युवक वहां से गुजरे, जिनको पुलिस ने रुकने का इशारा किया। पुलिस के रोकने पर युवक रुके नहीं और बाइक की रफ्तार को भी तेज कर दिया। पकड़ने के लिए पुलिस ने युवकों का पीछा किया तो बदमाशों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में युवक घायल हुआ, जिसे पकड़ लिया। इस दौरान दूसरा बदमाश संजय उर्फ काला पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। मुठभेड़ के दौरान एक पुलिस आरक्षी को भी गोली लगी।

एसपी ग्रामीण ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त रंजीत उर्फ नंदू ने 28 मार्च को अरिहंत पेट्रोल पंप पर कर्मियों से हुई 22 लाख की लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इसमें उसके दो साथी मुकेश और सुंदर भी थे। कैश लाने व ले जाने की सूचना उसे अरिहंत पेट्रोल पंप पर काम कर रहे कर्मचारी आसिफ ने दी थी। ये तीनों पूर्व में जेल जा चुके हैं। अभियुक्त के खिलाफ दिल्ली, गाजियाबाद व अन्य जनपदों में करीब 12 से अधिक लूट,चोरी व हत्या का प्रयास आदि के मुकदमें दर्ज है। अभियुक्त के अन्य आपराधिक इतिहास की जानकारी जुटाई जा रही है।

From around the web