पिटबुल के बाद अब रोटविलर कुत्ते का आतंक, युवक के पैर को ऐसे काटा की करनी पड़ी सर्जरी
 

 
म

गाजियाबाद। कुत्ते काटने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। जहां बीते दिनों पिटबुल के काटने से एक छोटे बच्चे को डेढ़ सौ से अधिक टांके लगाने पड़ गए थे। वहीं अब ताजा मामला थाना कविनगर इलाके के आदित्य वर्ल्ड सिटी में देखने को मिला है। जहां पर लग्जरिया एस्टेट सोसाइटी में रहने वाले हेमंत के पैर को रॉट विलर नस्ल के कुत्ते ने इतनी बुरी तरह काट लिया की उसे सर्जरी करानी पड़ी। 
पीड़ित हेमंत ने बताया कि वह अपने कुत्ते को टहलाने के लिए सोसायटी के गेट के बाहर गये थे। तभी वहां उनकी ही सोसायटी के रहने वाले दो छोटे बच्चे एक दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा और एक छोटा बच्चा अपने रॉटविलर कुत्ते को टहलाने के लिए बाहर आए हुए थे। इसी दौरान रोटविलर कुत्ता अचानक से आक्रामक हो गया और हेमंत पर हमला कर दिया। इतना ही नहीं रोटविलर कुत्ते ने 20 से 22 मीटर तक हेमंत को टांग से पकड़कर घसीटा गनीमत रही कि उस समय सड़क से गुजर रहे दो बाइक सवार और एक चौकीदार पहुंच गया और उन्होंने हिम्मत दिखाते हुए हेमंत को कुत्ते से छुड़ाने की पूरी कोशिश की। इस दौरान हेमंत ने भी अपने आप को बचाने का पूरा प्रयास किया और कुत्ते के काफी सारे मुक्के मारकर कुत्ते के जबड़े से छुड़ाने का प्रयास किया। लेकिन रॉटविलर कुत्ता अपना काम कर चुका था।वह हेमंत के पैर से काफी सारा माँस निकाल कर ले जा चुका था। घटना इतनी दर्दनाक थी कि दर्द और खून बहने की वजह से पीड़ित युवक हेमंत घटनास्थल पर ही बेहोश हो गया ।
आसपास शोर मचा हुआ देख सोसाइटी के कुछ लोग वहां जमा हुए।जिसके बाद लोगों ने हेमंत के परिजनों को इसकी सूचना दी। हेमंत के परिजन बाहर विदेश में रहते हैं।जिसके बाद पास पड़ोसियों और सोसाइटी के निवासियों की मदद से पीड़ित युवक हेमंत को अस्पताल ले जाया गया।जहां उनको तत्काल पर 23 इंजेक्शन लगाए गए। घाव इतना ज्यादा था कि डॉक्टर टाँके भी नही लगा सके।इसके बाद डॉक्टरों ने भी इलाज में कामयाबी ना मिलते देख डॉक्टरों ने हेमंत की स्किन ग्राफ्टिंग की है।अभी भी हेमंत को सही होने में 1 से 2 महीने का वक्त और लगेगा। अब हेमंत ने इसकी शिकायत स्थानीय कविनगर थाना पुलिस में दर्ज कराई है। जिसके बाद पुलिस मुकदमा दर्ज कार्रवाई की बात कह रही है।
लगातार बढ़ती घटनाओं के बीच अब आवश्यक हो गया है कि प्रशासन इन घटनाओं के प्रत सख्त और कड़े नियम बनाए। जिससे लोगों को इस तरह की घटनाओं से निजात मिल सके।

From around the web