गाजियाबाद: एक ही परिवार के सात लोगों की हत्या के दोषी को फांसी की सजा

 
hghg

गाजियाबाद। कोतवाली इलाके की नई बस्ती में 09 वर्ष पहले कारोबारी सहित एक ही परिवार के सात सदस्यों की सामूहिक हत्याकांड में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-12 निर्मल चंद्र सेमवाल की अदालत ने सोमवार को अपना फैसला सुनाया।

अदालत ने मुख्य आरोपी राहुल वर्मा को दोषी ठहराते हुए फांसी की सजा सुनाई। इससे पहले शनिवार को अदालत ने आरोपी को दोषी करार देते हुए फैसला सुरक्षित कर लिया था। दोषी राहुल पीड़ित परिवार का पुराना ड्राइवर था। उधर, मृतक कारोबारी सतीश गोयल के दामाद सचिन ने अदालत के फैसले पर संतोष जताया है।

अभियोजन पक्ष के मुताबिक, कोतवाली क्षेत्र के नई बस्ती इलाके में 22 मई 2013 को कारोबारी और उनके पूरे परिवार की सनसनीखेज तरीके से सामूहिक हत्या कर दी गयी थी। मरने वालों में खलचूरी का व्यापार करने वाले सतीश गोयल, उनकी पत्नी मंजू गोयल, बेटा सचिन गोयल, सचिन गोयल की पत्नी रेखा गोयल के अलावा सचिन के तीन बच्चे हनी गोयल, अमन गोयल और मेघा गोयल शामिल थे।

कुछ दिन बाद पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए सतीश गोयल के पुराने ड्राइवर राहुल वर्मा को गिरफ्तार किया था। राहुल वर्मा पूर्व में इस परिवार का ड्राइवर रह चुका था और वह नशे का आदी था। पुलिस का कहना था कि राहुल को रुपयों की जरूरत थी, जिसके लिए वह चोरी करने के लिए इनके घर में घुसा था। लेकिन उसी दौरान किसी ने उसको देख लिया, जिसके चलते उसने इस जघन्य हत्याकांड को अंजाम दिया था।

मामले की सुनवाई अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-12 की अदालत में विचाराधीन था। इस मामले में अभियोजन की तरफ से 28 और मृतक की तरफ से दो गवाहों के बयान कराए गए। पूरे मामले की सुनवाई के बाद सोमवार को अदालत ने सजा पर सुनवाई के बाद राहुल वर्मा को फांसी की सजा सुनाई।

From around the web