पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार के खिलाफ जंतर मंतर पर प्रदर्शन करेंगे मोदी के ही सगे भाई !

 
व

गाजियाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के छोटे भाई प्रह्लाद मोदी राशन डीलर है और वह गुजरात राशन डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष और देश की राशन डीलर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष हैं। भले ही उनके बड़े भाई नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं।लेकिन उनकी अपने बड़े भाई नरेंद्र मोदी से गुजरात में मुख्यमंत्री रहते हुए 14 साल में केवल 3 बार मुलाकात हुई। इसके अलावा फिलहाल 8 साल के अंदर उनकी एक भी मुलाकात भाई से नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी और बेटी की मौत होने के बाद भी वह घर नहीं पहुंचे बल्कि फोन पर ही उन्होंने शोक जताया।

प्रहलाद मोदी ने कहा कि उनका काम धंधा राशन डीलर का है और वह डीलर एसोसिएशन के मुखिया भी हैं। इसलिए राशन डीलर के हित की बात करना उनका भी कर्तव्य बनता है। उन्होंने कहा कि राशन डीलर के कमीशन को लेकर वह अपने भाई से नाराज नहीं, लेकिन उनकी सरकार के बनाए गए नियमों के खिलाफ है। क्योंकि राशन डीलर को जो कमीशन दिया जा रहा है। वह नाकाफी है लगातार मांग करने के बाद भी राशन डीलर की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसलिए मजबूरी वश 2 अगस्त को राशन डीलर जंतर मंतर पर पहुंचकर अपनी कुछ मांगों को लेकर प्रदर्शन करेंगे और वह  खुद भी उन सभी राशन डीलर के बीच रहेंगे।
उन्होंने कहा कि राशन डीलर की सबसे बड़ी मांग यह है। कि कोरोना काल के दौरान जहां परिवार वाले भी एक दूसरे से दूर रह रहे थे। उस दौरान भी लोगों को राशन पहुंचाने में राशन डीलर का सबसे बड़ा योगदान रहा। राशन डीलर्स ने बगैर पीपीई किट के लोगों को राशन पहुंचाया। इसलिए राशन डीलर को कोरोना वारियर्स घोषित किया जाए। इसके अलावा देश की वर्ल्ड फ़ूड ओरेगेनाइजर कमेटी में राशन डीलर के कमीशन को लेकर चर्चा हुई तो कमेटी की अध्यक्ष सीतारमण की अध्यक्षता में कमीशन लागू किया था। जिसमें राशन डीलर को 460 प्रति कुंतल दिए जाने की बात कही गई थी। लेकिन कमेटी के तहत कमीशन नहीं मिल पा रहा है। इसके अलावा अन्य कई ऐसी मांगे हैं जो राशन डीलर सरकार के सामने रखेंगे।

From around the web