लखनऊ को मिलेगा हैप्पीनेस पार्क, गुल्ली-डंडा व कंचे जैसे भूले-बिसरे खेलों की लिए बनेगी सुविधा

 
लखनऊ, 20 नवंबर (आईएएनएस)| लखनऊ के लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल, गोमती रिवरफ्रंट के पास जल्द ही म्यूजिकल हैप्पीनेस पार्क खुलने वाला है। इसके अलावा, गोमती नगर में होटल ताज के पीछे खाली जगह पर भी यूपी दर्शन प्रोजेक्ट के तहत एक और पार्क बनेगा। हैप्पीनेस पार्क साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर के सामने बुद्ध पार्क के अंदर बनेगा, जहां बच्चे गुल्ली-डंडा, कांचा (मार्बल्स) जैसे भूले-बिसरे खेलों को खेल सकेंगे, जो कभी लोकप्रिय हुआ करते थे, लेकिन कंप्यूटर गेम के आने के बाद से ये गायब हो गए।  लखनऊ मंडलायुक्त रोशन जैकब ने बताया कि दोनों पार्कों के प्रस्ताव पर विस्तार से चर्चा हुई है।  उन्होंने कहा, हैप्पीनेस पार्क में कई मजेदार मूर्तियां होंगी, जिन पर बच्चे तस्वीरें खिंचवा सकेंगे। इनमें से कई बेकार सामग्रियों के इस्तेमाल से बनाए जाएंगे।  गोमती रिवर फ्रंट के साथ-साथ एक म्यूजिकल पार्क बनाया जाएगा, जहां संगीत वाद्ययंत्र और उस्तादों के चित्र रखे जाएंगे। रुचि रखने वाले लोग उन वाद्य यंत्रों को बजा भी सकेंगे।  गोमती नगर में होटल ताज के पीछे खाली जगह में एक और पार्क यूपी दर्शन बनेगा, जहां हर जिले की लोकप्रिय वस्तुओं को चिकनकारी की तरह प्रदर्शित किया जाएगा।  उन्होंने कहा कि ये सभी परियोजनाएं सार्वजनिक-निजी भागीदारी मॉडल के तहत विकसित की जाएंगी और स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत आएंगी।
लखनऊ। लखनऊ के लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल, गोमती रिवरफ्रंट के पास जल्द ही म्यूजिकल हैप्पीनेस पार्क खुलने वाला है। इसके अलावा, गोमती नगर में होटल ताज के पीछे खाली जगह पर भी यूपी दर्शन प्रोजेक्ट के तहत एक और पार्क बनेगा। हैप्पीनेस पार्क साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर के सामने बुद्ध पार्क के अंदर बनेगा, जहां बच्चे गुल्ली-डंडा, कांचा (मार्बल्स) जैसे भूले-बिसरे खेलों को खेल सकेंगे, जो कभी लोकप्रिय हुआ करते थे, लेकिन कंप्यूटर गेम के आने के बाद से ये गायब हो गए।

लखनऊ मंडलायुक्त रोशन जैकब ने बताया कि दोनों पार्कों के प्रस्ताव पर विस्तार से चर्चा हुई है।

उन्होंने कहा, हैप्पीनेस पार्क में कई मजेदार मूर्तियां होंगी, जिन पर बच्चे तस्वीरें खिंचवा सकेंगे। इनमें से कई बेकार सामग्रियों के इस्तेमाल से बनाए जाएंगे।

गोमती रिवर फ्रंट के साथ-साथ एक म्यूजिकल पार्क बनाया जाएगा, जहां संगीत वाद्ययंत्र और उस्तादों के चित्र रखे जाएंगे। रुचि रखने वाले लोग उन वाद्य यंत्रों को बजा भी सकेंगे।

गोमती नगर में होटल ताज के पीछे खाली जगह में एक और पार्क यूपी दर्शन बनेगा, जहां हर जिले की लोकप्रिय वस्तुओं को चिकनकारी की तरह प्रदर्शित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि ये सभी परियोजनाएं सार्वजनिक-निजी भागीदारी मॉडल के तहत विकसित की जाएंगी और स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत आएंगी।

From around the web