मेरठ में ढाबे, रेस्टोरेंट और पेंट की दुकान में लगी आग, लाखों का नुकसान

 
 ुनग

मेरठ। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के श्रद्धापुरी शनिवार सुबह एक ढाबे और रेस्टोरेंट में आग लग गई। इससे लाखों का सामान जलकर राख हो गया। ढाबे में सो रहे लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। ढाबा संचालिका ने अराजक तत्वों पर आग लगाने का आरोप लगाया है। ब्रह्मपुरी क्षेत्र में बिजली के तार से निकली चिंगारी से एक पेंट की दुकान जल गई।

कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में श्रद्धापुरी में कैलाशी हास्पिटल के सामने डबल स्टोरी निवासी विमला अपना ढाबा चलाती है। उसने पास में ही खोखा भी बनाया हुआ है। उसके पास ही मणि रेस्टोरेंट भी बना हुआ है। विमला रात को अपने ढाबे में सोई थी। विमला ने बताया कि शनिवार की सुबह अचानक उसे जलने की बदबू आई तो वह दौड़कर बाहर आई। उसने देखा कि ढाबे के बाहर की तरफ से आग लगनी शुरू हुई थी। उसने शोर मचाना शुरू किया तो अस्पताल गेट से गार्ड और अन्य लोग मौके पर पहुंचे। लोगों ने पानी और मिट्टी से आब बुझाने का प्रयास किया, लेकिन आग ने भीषण रूप धारण कर लिया। आग ने पास के खोखे और मणि रेस्टोरेंट को भी अपनी चपेट में ले लिया। सूचना पर फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत से आग बुझाई। तब तक ढाबे का सारा साकार जलकर राख हो गया। आग से रेस्टोरेंट का भी सारा सामान जल गया। दोनों को लाखों रुपए का नुकसान हुआ है। कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर सुबोध सक्सेना ने बताया कि दोनों जगह आग से मोटा नुकसान हुआ है। पुलिस दोनों मामलों की जांच कर रही है।

उधर, ब्रह्मपुरी क्षेत्र में बिजली के तार से निकली चिंगारी से एक पेंट की दुकान में आग गई। लिसाड़ी रोड पर रशीदनगर में शमशाद की पेंट की दुकान है। शनिवार दोपहर को सामने से गुजर रही बिजली की लाइन से निकली चिंगारी से पेंट की दुकान में आग लग गई। सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने किसी तरह से आग पर काबू पाया। आग से लाखों रुपए का नुकसान हुआ है।

From around the web