सांसद ने छात्रों को समझाई संसद की कार्यप्रणाली, बांटे टैबलेट

 
न
मेरठ। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान, अर्थशास्त्र एवं गणित विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एक विशिष्ट व्याख्यान एवं टैबलेट वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित एवं पुष्प अर्पण करके किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राजेन्द्र अग्रवाल सांसद मेरठ-हापुड़ लोकसभा उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो० वाई० विमला प्रति कुलपति चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय द्वारा की गई। सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने संसद कि कार्यप्रणाली को छात्र-छात्राओं को बड़े ही सरल शब्दों में समझाया। उन्होंने यह भी बताया कि अपने क्षेत्र की समस्या के विषय में संसद में प्रश्न पूछ कर उसका समाधान किया जा सकता है। सरकार की टैबलेट वितरण योजना किस प्रकार से छात्र-छात्राओं के भविष्य को उज्जवल बनाने में किस प्रकार उपयोगी है इस पर भी सांसद ने प्रकाश डाला।
प्रो० वाई० विमला ने अपने भाषण में छात्र-छात्राओं को तकनीक के लाभ के विषय में समझाते हुए कहा की सरकार के द्वारा जो टैबलेट ओर स्मार्ट फोन दिए जा रहे हैं। इनकी सहायता से आप शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़े यदि विद्यार्थियों के द्वारा इन टैबलेट का सदुपयोग किया गया तभी सरकार की इस महत्वकांक्षी योजना का उद्देश्य पूर्ण हो पायेगा।
कार्यक्रम के संयोजक एवं राजनीति विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रो० संजीव कुमार शर्मा पूर्व कुलपति महात्मा गांधी केन्द्रीय विश्वविद्यालय, मोतिहारी विहार ने विषय प्रवेश कराते हुए राजनीति शास्त्र के महत्व को बताया तथा संसद की कार्यप्रणली पर भी प्रकाश डाला।
कार्यक्रम का संचालन डा० अनुसुईया नैन ने किया। प्रो० राजेन्द्र कुमार पाण्डेय द्वारा अतिथियों का स्वागत एवं परिचय कराया गया। प्रो० शिवराज सिंह पुण्डीर ने अपने विचार रखे। कार्यक्रम के अन्त में प्रो० अंतवीर सिंह विभागाध्यक्ष अर्थशास्त्र विभाग ने कार्यक्रम में आए अतिथियों का धन्यवाद ज्ञपित किया।
कार्यक्रम में प्रो० पवन कुमार शर्मा, प्रो० मुकेश कुमार शर्मा, प्रो० नवीन चन्द्र लोहनी (संकाय अध्यक्ष कला) प्रो० संजीव कुमार (अर्थशास्त्र), प्रो० रविन्द्र कुमार (अर्थशास्त्र), डा० देवेन्द्र उज्जवल, डा० सुषमा रामपाल, डा० जयवीर सिंह, डा० संतोष कुमार, डा० रवि पोश्वाल, यतेन्द्र कुमार डा० अरूण कुमार, अनन्त कपिल, गगन सिकरवार, विशाल कुमार, विकाश झा, आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

From around the web