दस साल का आरव मणिपुर से दिल्ली पहुंचा देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देने

 
न
मेरठ। दस साल के आरव ने देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए मणिपुर से दिल्ली तक की यात्रा साइकिल से तय की। आज वो मेरठ के शहीद स्मारक पहुंचे तो सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने आरव का स्वागत किया। डाक्टर अतुल भारद्वाज के 10 वर्षीय पुत्र आरव भारद्वाज ने स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष के अवसर पर देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए साइकिल द्वारा मणिपुर से दिल्ली के बीच की दूरी तय करने का संकल्प लिया है। आरव की यात्रा 16 मई को दिल्ली के नेशनल वार मैमोरियल मे समाप्त होगी।
आरव भारद्वाज ने 14 अप्रैल को मणिपुर के मोईरान्ग से साइकिल द्वारा अपनी यात्रा शुरू की। साइकिल यात्रा में आरव के पिता डॉक्टर अतुल भारद्वाज, दादा एमएस भारद्वाज और माता डाक्‍टर स्वाति भारद्वाज भी साथ साथ चल रहे हैं। शनिवार को आरव की साइकिल यात्रा जानी खुर्द क्षेत्र से होते हुए गुजरी। आरव के दादा एमएस भारद्वाज ने बताया की आरव कक्षा 6 का छात्र है। आरव ने देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए साइकिल यात्रा का संकल्प लिया है। यह यात्रा 16 मई को दिल्ली के नेशनल वार मैमोरियल में समाप्त होगी। इस संकल्प में परिवार आरव के साथ है।

From around the web