29 अगस्त से 20 सितम्बर तक आयोजित किये जायेंगे परीक्षण/चिन्हांकन शिविर :जिलाधिकारी

 
न
मेरठ। जिलाधिकारी दीपक मीणा ने बताया कि भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम कानपुर के पत्र के द्वारा जनपद के विकास खण्ड (दौराला, सरधना तथा विकास खण्ड मवाना को छोड़कर) विकास खण्डों में आने वाले नगरीय क्षेत्र में एडिप योजना के अन्तर्गत दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग सहायक उपकरण (मोटराइज्ड़ ट्राइसाईकिल, कृत्रिम हाथ-पैर, ट्राइसाईकिल, बैसाखी, कान की मशीन व्हील चेयर, स्मार्ट केन, लेपरोसी किट तथा दृष्टिबाधित छात्रों हेतु स्मार्ट फोन तथा डेजीप्लेयर आदि) तथा राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अन्तर्गत वृद्धजनों को उनकी आवश्यकता के अनुसार उपकरण दिये जाने हेतु परीक्षण/चिन्हांकन शिविर का आयोजन 29 अगस्त से 20 सितंबर तक प्रातः 10ः00 बजे से सायंः 4ः00 बजे तक आयोजित किया जाना है।
उन्हांने बताया कि 29 अगस्त को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत खिवाई, 30.08.2022 को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड सरूरपुर, 31 अगस्त .को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड रोहटा, एक सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड जानी, 02 सितंबर कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत सिवालखास, 03 सितंबर को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत करनावल, 05 सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड खरखौदा, 06 सितंबर को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत शाहजहांपुर, 07 सितंबर को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत किठौर, 08 सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड माछरा, 09 सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड परीक्षितगढ, 12 सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड हस्तिनापुर, 13 सितंबर को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका मवाना, 14 सितंबर को कार्यालय अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत बहसूमा, 15 सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड रजपुरा, 16 सितंबर को तहसील सदर, 17.सितंबर को कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, विकास खण्ड मेरठ, 19 सितंबर को स्पर्श राजकीय दृष्टिबाधित बालक इण्टर कालेज, परतापुर तथा 20 सितंबर को कार्यालय जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी, विकास भवन मेरठ में शिविर का आयोजन किया जायेगा। उन्हांने बताया कि एडिप योजनान्तर्गत लाभार्थी की दिव्यांगता 40 प्रतिशत से कम न हो तथा दिव्यांगता प्रमाण-पत्र मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा प्रदत्त किया गया हो, 22,500/-मासिक आय तक का आय प्रमाण-पत्र (मा0  सांसद, मा0  विधायक, नगर पंचायत  अध्यक्ष,  जिला  पंचायत अध्यक्ष, महापौर,  जिले के  प्रथम  श्रेणी के मजिस्ट्रेट, तहसीलदार, खण्ड  विकास अधिकारी  अथवा  ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम प्रधान एवं शहरी क्षेत्र में पार्षद द्वारा निर्गत किया गया हो), लाभार्थी को परीक्षण/चिन्हांकन के समय (पासपोर्ट साइज फोटो, दिव्यांगता प्रमाण-पत्र, आधार कार्ड, आय प्रमाण-पत्र) लाना अनिवार्य होगा तथा लाभार्थी को गत तीन वर्षों में समान उपकरण से लाभान्वित न किया गया हो।
उन्हांने बताया कि राष्ट्रीय वयोश्री योजना हेतु आयु 60 वर्ष या उससे अधिक हो, आधार कार्ड, 15,000/- मासिक आय तक का आय प्रमाण-पत्र (आय  प्रमाण-पत्र मा0  सांसद, मा0  विधायक, नगर पंचायत  अध्यक्ष,  जिला  पंचायत अध्यक्ष, महापौर,  जिले के  प्रथम  श्रेणी के मजिस्ट्रेट, तहसीलदार, खण्ड  विकास अधिकारी  अथवा  ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम प्रधान एवं शहरी क्षेत्र में पार्षद द्वारा निर्गत किया गया हो), लाभार्थी को एलिम्को द्वारा गत तीन वर्षों में समान उपकरण से लाभान्वित न किया गया हो।
उन्हांने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम, कानपुर द्वारा जनपद मेरठ के विकास खण्डों/नगर पालिकाओं व नगर पंचायतों में आयोजित किये जाने वाले परीक्षण/चिन्हांकन शिविर को सफल बनाये जाने हेतु अपने-अपने क्षेत्र में अधिक से अधिक लाभार्थियों को लाभ दिलाये जाने हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार कराना सुनिश्चित करें।

From around the web