व्यापारीे के नेपाली नौकर ने खीर और पराठा खिलाकर खंगाल दिया मकान 
 

 
6
मेरठ। टीपीनगर थानाक्षेत्र के कमला नगर में व्यापारी प्रदीप के नेपाली नौकर वीर बहादुर ने गार्ड मनोज को नशीला पदार्थ मिलाकर खीर और पराठा खिलाया। इसके बाद दो घंटे में पूरा मकान खंगाल दिया। वीर बहादुर ने गार्ड मनोज को फोन करके खाना खाने के लिए बुलाया। खाना खाने के कुछ देर बाद ही मनोज बेहोश हो गए।
इसके बाद नौकर ने तीन साथियों को बुलाया था। शाम 6 बजे गार्ड की ड्यूटी बदलनी थी। मनोज की जगह राकेश को आना था। इससे पहले नौकर साथियों सहित सामान लेकर भाग गया। बाद में दूसरे गार्ड राकेश पहुंचे तो कोठी का सामान बिखरा मिला, लेकिन उन्होंने किसी को नहीं बताया। करीब डेढ़ घंटे बाद 7:30 बजे गार्ड मनोज को होश आया और अपने परिजनों को बुलाकर उनके साथ चला गया।
चालू मिले एक कैमरे में नेपाली नौकर सहित चार लोग नजर आए। राकेश पूरी तरह से होश में नहीं थे। इसके बावजूद उसने पुलिस को बताया कि शाम चार बजे वीर बहादुर ने फोन कर उसे कोठी में बुलाया था।
खाना खाने के बाद बेहोश हुए और इसके बाद का उन्हें कुछ पता नहीं है। पुलिस ने नौकर और गार्ड के मोबाइल की सीडीआर भी निकाली है। फुटेज में नौकर के साथ तीन युवक कॉलोनी से बाहर जाते हुए दिख रहे हैं।
पुलिस का मानना कि यह घटना शाम 4 से 6 बजे के बीच की है। पुलिस ने प्रदीप गुप्ता को गार्ड उपलब्ध करने वाले सरदार सिद्धू को बुलाकर पूछताछ की। सरदार सिद्धू ने बताया कि वह समाजसेवी हैं।
एक सप्ताह पहले ही नौकरी मांगने के लिए वीर बहादुर उनके ऑफिस मेट्रो प्लाजा में आया था। मैंने उनको प्रदीप गुप्ता के पास भेज दिया था। मैंने उसकी आईडी नहीं ली। वह कहां से आया था, इसका मुझे कोई पता नहीं। वह वीर बहादुर है या कोई ओर, मुझे यह भी नहीं पता।

From around the web