सूदखोरों से परेशान व्यापारी ने खाई सल्फास,देर रात इलाज के दौरान मौत 
 

 
 v
मेरठ। सूदखोरों के उत्पीड़न से तंग आकर कपड़ा व्यापारी ने सल्फास खाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों ने बिना पोस्टमार्टम कराए शव को सिपुर्द-ए-खाक कर दिया। 
देहलीगेट कोटला मंडी निवासी सफी अंसारी लेडीज शूट बेचने का काम करते थे। सफी अंसारी ने लिसाड़ी गेट के इस्लामाबाद निवासी सूदखोर से पांच साल पहले छह लाख रुपये ब्याज पर लिए थे। परिजनों ने बताया कि ब्याज के साथ असल रकम भी सूदखोर को किश्तों में लौटा दी थी। इसके बाद भी सूदखोर ने 15 लाख बकाया निकाल दिए और देने के लिए लगातार दबाव बना रहा था। इंस्पेक्टर ऋषिपाल ने बताया कि सूदखोर के उत्पीड़न से तंग आकर सोमवार को सफी अंसारी ने सल्फास खा लिया। परिजनों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। जहां देर रात उपचार के दौरान सफी की मौत हो गई। सफी के बयान दर्ज करने के लिए चौकी इंचार्ज गजेंद्र सिंह अस्पताल गए थे लेकिन बदहवासी में वह बोल नहीं पाए। परिजनों ने कानूनी कार्रवाई से भी इन्कार कर दिया है। परिजनों ने रात में ही उसका शव सुपुर्द ए खाक कर दिया।

From around the web