झमाझम बारिश से कई इलाकों में जलभराव, आज भी बारिश के आसार 
 

 
b
मेरठ। मेरठ सहित पश्चिमी उप्र के जिलों में बारिश पिछले 24 धंटे से कहर बरपा रही है। गुरुवार शाम से शुरू हुई बारिश रात भर रुक-रुककर होती रही। शुक्रवार को सुबह से ही रिमझिम बारिश का दौर चलता रहा। जिससे तापमान में गिरावट आई है। वहीं कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. यूपी शाही का कहना है कि मेरठ, बागपत, मुजफ्फरनगर, शामली, सहारनपुर और बिजनौर आदि जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश हो रही है। बारिश का अभी 24 से 48 घंटे का अलर्ट जारी किया गया है।
मेरठ में पिछले दो-तीन दिनों से लगातार झमाझम बारिश हो रही है, जिससे कई इलाकों में भारी जलभराव हो गया। मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। सितंबर में अब तक 155 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। हालांकि वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) कम होने से शहर की हवा भी शुद्ध हो गई है।
बता दें कि लगातार हो रही बारिश कहर बरपा रही है। जहां बारिश ने परेशानी भी बढ़ा दी है तो वहीं टूटी सड़कें भी जानलेवा बन गई हैं। गोलाकुआं में गड्ढे में ई-रिक्शा पलट गई। इस हादसे में कई लोग घायल हो गए। उधर, फाल्ट होने से कई स्थानों पर बिजली गुल रही।
मेरठ में कई इलाकों में भारी जलभराव होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शहर के गोलाकुआं, नूर नगर, लिसाड़ीगेट, ब्रह्मपुरी, मलियाना और तारापुरी समेत कई क्षेत्रों में भारी जलभराव हुआ है।

From around the web