ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने 15 साल पुराने अवैध कब्जे को हटाया, करीब 57 करोड़ रुपये की भूमि खाली कराई

 
न
ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने खेड़ा चौगानपुर में 15 साल पुराने अवैध निर्माण को वृहस्पतिवार ढहा दिया। वहीं बिसरख जलालपुर में भी बन रही अवैध कॉलोनी को भी गिरा दिया गया। दोनों जगह की कार्रवाई से करीब 28 हजार वर्ग मीटर जमीन खाली करा ली गई है। इसकी कीमत करीब 57 करोड़ रुपये होने का आकलन है। इन जगहों पर किसानों के लिए छह फीसदी आबादी भूखंड नियोजित किए गए हैं। बृहस्पतिवार को खेड़ा चौगानपुर में 20, 243 वर्ग मीटर जमीन खाली कराई है। यहां पर 2008 से अतिक्रमण हो रखा था। कालोनाइजर इस जमीन पर अवैध कालोनी काट रहे थे। इस जमीन कीमत करीब 41 करोड़ रुपये आंकी गई है। इसके बाद इसी टीम ने बिसरख जलालपुर में करीब 8000 वर्ग मीटर जमीन खाली कराई। यह प्राधिकरण की अर्जित और कब्जा प्राप्त जमीन है। यहां भी अवैध कालोनी काटी जा रही थी। इस जमीन कीमत भी करीब 16 करोड़ रुपये आंकी गई है। पांच जेसीबी, पांच डंफर व 25 कर्मचारियों की टीम ने इन दोनों कार्रवाई को अंजाम दिया। इन दोनों जगहों पर किसानों की छह फीसदी आबादी भूखंड नियोजित किए गए हैं।
 

From around the web