नोएडा में ’निर्माणाधीन दीवार गिरने से बड़ा हादसा, 4 की मौत,कई घायल,रेस्क्यू जारी’  

 
व
नोएडा। सेक्टर 21 में निर्माणाधीन दीवार गिरने से बड़ा हादसा हो गया। यह बाउंड्री वॉल जलवायु विहार सेक्टर 21 में  बनी नाली की सफाई के दौरान गिरी.  उस समय वहाँ कुल 12 मजदूर वहां काम कर रहे थे। इस हादसे में चार मजदूरों की मौत हो गई है। वहीं, मलबे में कई मजदूरों के फंसे होने की आशंका है। कई घायल मजदूरो को नोएडा के कैलाश अस्पताल और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सूचना मिलते पुलिस कमिश्नर और डीएम समेत सभी आलाधिकारी मौके पर पहुंच गये है । मौके पर फायर, पुलिस और प्राधिकरण के अधिकारी मौजूद है। मलबा हटाने का काम किया जा रहा है।
नोएडा के सेक्टर-21 जलवायु विहार सोसाइटी की बाउंडी बाल के गिरने के बाद मलबे को मशीनों और हाथों से हटाकर रेस्क्यू का काम किया जा रहा है,  यह जो दीवार गिरी है वह नाले से सटी हुई थी और बीते 2 दिनों से नाले की सफाई का काम किया जा रहा था. प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि यह दीवार जलवायु विहार आवासी समिति ने 25 साल पहले बनाई थी,  लेकिन इसका रखरखाव नहीं किया जा रहा था. ऐसे में दीवार की नींव कमजोर हो गई थी और नाली के सफाई के दौरान यह अचानक भरभरा कर गिर गई. इस हादसे में पप्पू, पुष्पेंद्र सहित करीब 12 मजदूर मलबे में दब गए।
बाउंड्री वाल गिरते ही चीख-पुकार मच गई। सेक्टर के लोग भी वहां जमा हो गए। लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने राहत और बचाव कार्य करते हुए स्थानीय लोगों की मदद से मजदूरों को मलबे से बाहर निकाला। घायल मजदूरों को तुरंत सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक भर्ती 10 मरीजों में से करीब 6 मरीजों को गंभीर चोटें आई हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। जिला अस्पताल में जिन दो श्रमिकों की मौत हुई है, उनमें पुष्पेंद्र और 28 साल के पान सिंह शामिल हैं। पान सिंह बदायूं का रहने वाला था। इसके अलावा कैलाश अस्पताल में अमित और 18 साल के धर्मवीर पुत्र धर्मपाल की मौत हुई है। अमित और धर्मवीर दोनों भाई बताए जा रहे हैं।
दीवार गिरने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे डीएम सुहास एलवाई पर बताया कि नोएडा प्राधिकरण की ओर से नाले की सफाई के लिए कांटेक्ट दिया गया था, इसका काम किया जा रहा था, ईट निकालने के दौरान नाले की तरफ दीवार गिरी इस में काम करने वाले मजदूर इसके नीचे दब गए इसमें दो लोगों को जिला अस्पताल और दो को कैलाश अस्पताल लाया था। वहां डाक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया। डीएम ने कहा कि इस पूरे मामले की जांच की जाएगी।

From around the web