उत्तर प्रदेश से अपराधी भाग रहे हैं, निवेशक वापस लौट रहे हैं: योगी

 
व
सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में सुरक्षा का माहौल बना है और देश ही नहीं विदेश के निवेशकों के लिए राज्य सबसे बड़ा आकर्षण का केंद्र बन गया है।
मुख्यमंत्री ने रविवार को सहारनपुर नगर के जनता रोड स्थित महाराज सिंह डिग्री कॉलेज में आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में कहा कि मार्च 2017 में उनकी सरकार बनने के बाद प्रदेश छह सालों में पूरी तरह से बदल गया है। अपराधी प्रदेश छोड गए हैं और निवेशक वापस लौट रहे है। डबल इंजन की सरकार ने विकास की गति दोगुनी कर दी है।
उन्होंने मतदाताओं से स्थानीय निकायों में भी भारतीय जनता पार्टी को जीताने और वहां पार्टी के चेयरमैन और बोर्ड गठित करने की अपील करते हुए भरोसा दिया कि इससे प्रदेश का विकास तीन गुनी तेजी से होगा।
आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार से पहले प्रदेश की राजनीति परिवारवाद तक सीमित थी और भ्रष्टाचार का बोलबाला था। व्यापारियों और उद्यमियों के लिए जीवन बेहद असुरक्षित था। राजनीति का अपराधीकरण और अपराधियों का राजनीतिकरण हो गया था। कैराना और कांधला की घटनाओं से पलायन हुआ था जो अब बंद हो गया है। सरकार की अपराध को सहन न करने की नीति के चलते प्रदेश में सुरक्षा का माहौल बना है।
उन्होंने कहा कि सरकारी नियुक्तियों में पारदर्शिता और ईमानदारी आई है। पांच लाख युवाओ की नियुक्तियां हुई है। पांच साल में एक लाख नौजवानों को सहारनपुर जिले में रोजगार मिला है। आज सुबह लखनऊ में 1,354 स्टाॅफ नर्सों की भर्तियों के नियुक्ति पत्र वितरित किए जिनमें से कई सहारनपुर की भी थी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सहारनपुर में आज जमीन आसमान का अंतर आया है। साफ-सफाई, स्ट्रीट लाइट और जल आपूर्ति की व्यवस्था दुरूस्त हुई है। जिले में आठ हजार रेहड़ी पटरी वालों को लाभ दिया गया है। 45 लाख गरीबों को एक-एक लाख आवास की सुविधा दी गई। सहारनपुर महानगर में पीएम आवास के तहत 25 हजार 944 और सीएम आवास योजना में 18 हजार से ज्यादा लोगों को घर दिए गए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश की औद्योगिक और टैक्सटाइल नीतियां सबसे अच्छी है। उत्तर प्रदेश निवेशकों के लिए सबसे सुरक्षित स्थान बन गया है।
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन से पूर्व 145 करोड़ की 243 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।
 

From around the web