मण्डलायुक्त ने निर्माणाधीन मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय, पुंवारका का साईट पर पंहुचकर स्थलीय निरीक्षण किया

 
व
सहारनपुर। मण्डलायुक्त सहारनपुर डॉ0 लोकेश एम. ने निर्माणाधीन मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय, पुंवारका का साईट पर पंहुचकर स्थलीय निरीक्षण किया। निर्माण कार्य जुलाई 2021 से प्रारम्भ है किन्तु अभी तक एक माइलस्टोन का कार्य भी पूर्ण नहीं हुआ है। मौके पर प्लिन्थ स्तर का निर्माण कार्य प्रगति में होता हुआ पाया गया। मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय का निर्माण कार्य कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग द्वारा कराया जा रहा है। मण्डलायुक्त द्वारा निर्माण कार्य अत्यंत धीमी गति से होने पर अप्रसन्नता व्यक्त की गयी तथा कार्यदायी संस्था को कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिये गये। स्थलीय निरीक्षण के उपरान्त विश्वविद्यालय के कुलपति हृदय शंकर सिंह, एसडीएम सदर सुश्री किंशुक श्रीवास्तव, प्रोजेक्ट कन्सल्टेंट, कार्यदायी संस्था, संबंधित ठेकेदार के साथ निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा की। ठेकेदार द्वारा कार्य की धीमी गति का कारण धनराशि समय से अवमुक्त न होना एवं प्लिन्थ लेवल में परिवर्तन का प्रस्ताव शासन स्तर पर लम्बित होना बताया गया। कार्यदायी संस्था के अधिशासी अभियंता से पूछे जाने पर उनके द्वारा मैनपावर व मैटेरियल की कमी के कारण कार्य धीमी गति से होना बताया गया। मण्डलायुक्त लोकेश एम ने उक्त स्थिति से समय से अवगत न कराये जाने पर रोष व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि ठेकेदार द्वारा धनराशि की मांग करने पर आवश्यक चेक प्वांइट पूर्ण कराते हुए समयबद्ध रूप से धनराशि अवमुक्त करने के निर्देश दिये। साथ ही कार्य करा रही एजेंसी मैसर्स ईश्वर सिंह एसोसिएट, हिसार के उपस्थित प्रतिनिधि को पर्याप्त मैनपावर के साथ निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिये गये कि कार्य करा रहीं एजेंसी के लिए कार्य का मासिक लक्ष्य निर्धारित किया जाए। प्रत्येक माह के अंत में निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष ही निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा की जायेगी। भविष्य में सुधार परिलक्षित न होने पर इसे गंभीरता से लिया जायेगा। 

From around the web