खनन माफिया इकबाल की अवैध रूप से अर्जित की गई 107 करोड़ की संपत्ति गैंगस्टर एक्ट में की गई कुर्क

 
न

सहारनपुर। खनन माफिया हाजी इकबाल उर्फ बाल्ला की अवैध रूप से अर्जित की गई 107 करोड़ मूल्य की संपत्ति को आज पुलिस और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ने गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के तहत कुर्क कर लिया है। एसएसपी आकाश तोमर ने आज शाम पत्रकारों को यह जानकारी दी। एसएसपी ने बताया कि गिरोह के सरगना इकबाल और सदस्यों ने बेशकीमती इमारती लकडि़यों की चोरी, तस्करी और खनन कार्य एवं धोखाधड़ी, छल, फरेब करके, लोगो को डरा-धमकाकर और अपने आपराधिक प्रभुत्व के बल पर सरकारी और गैर सरकारी जमीनों पर कब्जा सुसंगठित गैंग बनाकर अवैध आर्थिक लाभ हेतु किए गए अपराध से अर्जित किए गए धन से किया जाना प्रमाणित है। एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि कुर्क करने की इस कार्रवाई में एसपी देहात एडीएम, एसडीएम बेहट, सीओ बेहट, तहसीलदार बेहट और थाना प्रभारी मिर्जापुर शामिल थे। उन्होंने बताया कि पुलिस और प्रशासन इससे पूर्व 49 संपत्तियां जिनका मूल्य 128 करोड़ रूपए था, कुर्क कर चुका था। इस तरह से प्रशासन ने कुल 128 करोड़ की 174 संपत्तियां इस गिरोह की कुर्क की है।

एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि इस गिरोह में इकबाल के बेटे वाजिद, जावेद, अफजाल और अलीशान निवासी गांव मिर्जापुर पोल शामिल हैं। जांच में पता चला है कि इस गिरोह ने अवैध तरीकों से 123 संपत्तियां अर्जित की। जिन्हें आज पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने कुर्क करने की कार्रवाई की। एसएसपी ने बताया कि इकबाल बाल्ला और उसके गिरोह के सदस्यों का लंबा-चैड़ा आपराधिक इतिहास है।

From around the web