सहारनपुर में प्रधानमंत्री मोदी एवं मुख्यमंत्री योगी ने लाभार्थियों से किया संवाद 

 
न
सहारनपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शिमला से गरीब कल्याण सम्मेलन कार्यक्रम के अन्तर्गत विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों के साथ राष्ट्रीय स्तर पर संवाद किया गया। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भी लाभार्थियों से वार्ता की गयी और सरकारी योजनाओं से मिल रहे लाभ के बारे में लाभार्थियों से फीडबैक लिया। प्रधानमंत्री द्वारा विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से वार्ता के साथ ही पी0एम0 किसान सम्मान निधि की 11वीं किश्त के रूप में देश के 10 करोड से अधिक किसानों के खातों में 21 हजार करोड से अधिक की धनराशि का हस्तांतरित की गयी। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना, आयुष्मान भारत पी.एम. जन आरोग्य योजना, आयुष्मान भारत हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, स्वच्छ भारत मिशन शहरी, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, वन नेशन वन राशन कार्ड, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना, पोषण अभियान, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना तथा जल जीवन मिशन और अमृत योजना के लाभार्थी शामिल रहे। जनपद में इस कार्यक्रम का मुख्य आयोजन जनमंच सभागार से आरम्भ हुआ तथा विकासखण्ड मुख्यालयों एवं कृषि विज्ञान केन्द्रों पर इस कार्यक्रम का सजीव प्रसारण किया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्वप्रथम उत्तर प्रदेश के 06 लाभार्थियों से संवाद कर भारत सरकार द्वारा चलायी जाने वाली जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी लेते हुए उनसे फीडबैक लिया। इन योजनाओं के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने  प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया तथा शासन की योजनाओं को समाज के अंतिम पायेदान तक पंहुचाने के लिए प्रशासन के स्तर पर होने वाले कार्यों के संदर्भों की चर्चा की। प्रधानमंत्री ने गरीब कल्याण सम्मेलन कार्यक्रम के अन्तर्गत शिमला से वर्चुअली माध्यम से देश के विभिन्न जनपदों के लाभार्थियों से संवाद किया तथा उनसे केन्द्र सरकार द्वारा चलायी जाने वाली योजनाओं से जन सामान्य के जीवन में होने वाले परिवर्तनों के बारे में जाना। उन्होने अपने संबोधन में 130 करोड़ देशवासी उनका परिवार है तथा प्रत्येक भारतवासी के सम्मान, सुरक्षा, समृद्धि, सुख शान्ति को गरीब, वंचित, शोषित हर किसी के कल्याण को अपना संकल्प बताया। उन्होने कहा कि आज सरकार की योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के समाज के अंतिम व्यक्ति तथा सभी परिवारों को मिल रहा है। इसके साथ ही उन्होनें तकनीकि के माध्यम से भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने की बात कही। उन्होने कहा कि अब भारत के पास पाटेंशियल के साथ परफॉरमेंस भी है। इसके अलावा भारत को एक तेजी से बढती हुई अर्थव्यवस्था, रिकार्ड निवेश वाला देश, निर्यात करने वाला देश एवं स्टार्ट-अप का तीसरा सबसे बडा देश बताया। उन्होने कहा कि सरकार मेडिकल और टैक्निकल शिक्षा को मातृ भाषा में उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत है ताकि मातृ भाषा में अध्ययन करने वाले छात्रों को किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पडे। कार्यक्रम के दौरान जनमंच सभागार में जनप्रतिनिधि जिला पंचायत अध्यक्ष मांगेराम चौधरी, जिलाध्यक्ष भाजपा महेन्द्र सैनी, जिलाधिकारी अखिलेश सिंह, नगर आयुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह, मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 संजीव मांगलिक, परियोजना निदेशक देवेन्द्र प्रताप, जिला पूर्ति अधिकारी मनीष कुमार सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण और सरकारी योजनाओं के लाभार्थीगण  उपस्थित रहे।

From around the web