रोहतक में पैसेंजर ट्रेन में लगी भयंकर आग, कोई हताहत नहीं 

 

रोहतक। कोविड की वजह से करीब एक साल बाद चली पसेंजर ट्रेन की बोगी में अचानक भीषण आग लगने से रेलवे विभाग में हलचल मच गई। पसेंजर ट्रेन की चार बागियो में आग लगने से भारी नुकसान हुआ है। एएमयू ट्रेन रोहतक से दिल्ली के लिए चलती है जो 4:10 पर चलनी थी लेकिन करीब दो बजे ट्रेन की बोगियों में अचानक आग लग गई। फिलहाल दमकल विभाग की पांच गाड़िया आग बुझाने में लगी हुई है।

गनीमत ये भी रही के आसपास खड़ी मेल गाड़ियों तक आग नही पहुँची नही तो बड़ा नुकसान हो सकता है। रोहतक से दिल्ली के लिए जाने वाली ईएमयू ट्रेन में आग लगी है। हालांकि गनीमत ये रही कि जिस वक्त ये हादसा हुआ उस वक्त ट्रेन में कोई यात्री मौजूद नहीं था, क्योंकि ट्रेन को रोहतक से दिल्ली के लिए शाम 4 बजकर 10 मिनट पर रवाना होना था। आग कैसे लगी फिलहाल इसकी जांच की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक  करीब साल भर के बाद 5 अप्रैल से पैसेंजर ट्रेन चलाने की शुरुआत की गई थी। इसी कड़ी में रोहतक से दिल्ली जाने वाली एएमयू पैसेंजर ट्रेन को 4:10 पर रोहतक से दिल्ली के लिए रवाना होना था, लेकिन करीब 2:00 बजे के आसपास रेलवे कर्मचारियों को सूचना मिली की ट्रेन की बोगियों में आग लगी हुई है जिसके बाद फायर ब्रिगेड को सूचित किया गया।

जिसके बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ियों में आग बुझाने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। आग लगने से पैसेंजर ट्रेन की चार बोगियां पूरी तरह से जल कर राख हो गई। आग के वास्तविक कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो पाया है। गनीमत यह रही की आस पास में खड़ी कई और ट्रेनों तक आग नहीं पहुंच पाई अन्यथा भारी नुकसान की आशंका थी।

घटना की सूचना पर दमकल विभाग की 6 गाड़िया मौके पर पहुंची और लगभग 1 घंटे में आग पर काबू पाया। राहत की बात यह रही कि कोई जानी नुकसान नही हुआ। इंजन के डीजल टैंक से आग चली थी और ईएमयू ट्रेन के तीन डिब्बे पूरी तरह से जल कर खाक हो गए। वहीं प्रत्यक्षदर्शी का कहना है उन्होंने दूर से देखा तो आग की लपटे उठती दिखाई दी पास आकर देखा तो ट्रेन में आग लगी हुई थी। फायर बिग्रेड की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया है।

From around the web