यमुनानगर में कबाड़ के गोदाम में लगी आग, एक ही परिवार के 3 बच्चों समेत 4 की मौत

 
g

यमुनानगर। शहर के सिटी सेंटर के पास कबाड़ के एक गोदाम में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि आग की लपटें पहली मंजिल पर बने कमरों तक पहुंच गईं। इससे एक परिवार के 3 बच्चों सहित 4 लोगों की मौत हो गई जबकि एक महिला गंभीर रूप से झुलस गई। पुलिस व दमकल विभाग की गाड़ियों ने कई घंटों के बाद आग पर काबू पाया।

जानकारी के अनुसार बुधवार देर रात 2 बजे के करीब कबाड़ के गोदाम में अचानक आग लग गई। इससे कबाड़ गोदाम के ऊपर बने कमरों में रह रहे श्रमिकों के परिवार आग की लपटों में घिर गए। कुछ ही पल में एक परिवार इसकी चपेट में आ गया। चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग भी बाहर आ गए। इसके बाद दमकल विभाग को सूचना देने के साथ बचाव कार्य शुरू किया। कुछ परिवारों को बाहर निकाल लिया गया, लेकिन एक परिवार से 37 वर्षीय नियामुद्दीन, उनकी 12 वर्षीय बेटी फिजा, बेटा आठ वर्षीय चांद, तीन वर्षीय रेहान की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी पत्नी 25 वर्षीय नसीमा बुरी तरह से झुलस गई। नसीमा को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अन्य क्वार्टरों में रह रहे लोगों को दीवार तोड़कर व छतों के रास्ते निकाला गया। दमकल विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। दमकल विभाग के अधिकारी और पुलिस अधिकारी मामले की जांच में जुटे हैं।

प्राथमिक जांच में दमकल विभाग के अधिकारियों का कहना है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी होगी। कबाड़ी के गोदाम में भारी मात्रा में टायर व प्लास्टिक का सामान था। इस कारण आग ने भीषण रूप ले लिया। आग की लपटों से छज्जे के गिर जाने से नीचे बंधी एक गाय भी आग की चपेट में आ गई।

From around the web