हरियाणा भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी का ऐलान

 
1

चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी ने हरियाणा में प्रदेश कार्यकारिणी का एलान कर दिया है। संगठन की पहली सूची में एक मौजूदा सांसद, पांच पूर्व मंत्री, तीन मौजूदा तथा छह पूर्व विधायको समेत 20 पदाधिकारियों की नियुक्ति की है।

 प्रदेश महामंत्री के तीनों पदों पर नियुक्ति हो गई है। छह मोर्चों के प्रदेशाध्यक्ष भी नियुक्त किए गए हैं। सात प्रदेश उपाध्यक्ष, तीन महामंत्री, 7 प्रदेश मंत्री के अलावा कोषाध्यक्ष, कार्यालय सचिव व सह-कार्यालय सचिव की नियुक्ति पार्टी ने की है।

 भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ ने मंगलवार को सूची जारी करते हुए बताया कि पूर्व कैबिनेट मंत्री कविता जैन को प्रदेश उपाध्यक्ष का जिम्मा सौंपा है। पूर्व डिप्टी स्पीकर संतोष यादव, पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर, सिरसा से लोकसभा सांसद सुनीता दुग्गल, पानीपत ग्रामीण से विधायक महिपाल ढांडा को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया है। इसी तरह से प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रहे ठाकुर विक्रम सिंह व वीटा के पूर्व चेयरमैन जीएल शर्मा को भी प्रदेश उपाध्यक्ष का जिम्मा सौंपा है। 

 वेदपाल एडवोकेट प्रदेश महामंत्री पद पर बने रहने में कामयाब रहे हैं। वे पहले से ही प्रदेश महामंत्री हैं। करनाल सांसद संजय भाटिया और संदीप जोशी का नंबर इस पर कट गया है। उनकी जगह पार्टी ने राई विधायक मोहन लाल बड़ौली और लाडवा से पूर्व विधायक डॉ़ पवन सैनी को प्रदेश महामंत्री का जिम्मा सौंपा है। 

पटौदी विधायक सत्यप्रकाश जरावता, फरीदाबाद से रेणु भाटिया, रतिया के पूर्व विधायक प्रो़ रविंद्र सिंह बलियाला, समय सिंह भाटी, मनीष मित्तल, सरोज सिहाग व सुरेंद्र आर्य को प्रदेश सचिव की जिम्मदारी सौंपी हैं। 

इनमें संजय सिंह भाटी किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष रह चुके हैं। पलवल विधायक दीपक मंगला को कोषाध्यक्ष का जिम्मा सौंपा गया है। पहले की तरह गुलशन भाटिया इस बार भी पार्टी के कार्यालय सचिव बने रहेंगे। वे करीब 41 वर्षों यानी 1980 से इस पद पर हैं। सेवानिवृत्त बीमा अधिकारी कमल अवस्थी को उनके साथ सह-कार्यालय सचिव लगाया गया है। धनखड़ की इस टीम में युवाओं के अलावा अनुभवी नेताओं को भी जिम्मेदारी दी गई है। 

संगठन में जगह पाने वालों में अधिकांश पढ़े-लिखे हैं। पार्टी ने पूर्व खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री कर्णदेव काम्बोज को पिछड़ा वर्ग मोर्चा का प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त किया है। पूर्व परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार को अनुसूचित जाति मोर्चा की कमान सौंपी है। 

पूर्व विधायक नसीम अहमद को अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त किया है। लम्बे समय तक हरियाणा में महिला कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष रहीं सुमित्रा चौहान भाजपा में भी अपने लिए जगह बनाने में कामयाब रही हैं। 2019 के विधानसभा चुनावों के दौरान वे कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं। भाजपा ने उन पर भरोसा जताते हुए महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त किया है। धनखड़ ने किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष की जिम्मेदारी अपने सबसे करीब और युवा सुखविंदर सिंह श्योराण को सौंपी है। 

From around the web