किसानों की मांग पर गृहमंत्री अनिज विज ने कहा, किसी के कहने पर किसी को फांसी नहीं चढ़ा सकते 

 
न
करनाल । हरियाणा के गृहमंत्री अनिज विज ने कहा है कि जांच के बाद ही कोई भी कार्रवाई की जाएगी, किसी के कहने पर किसी को फांसी नहीं चढ़ा सकते है। 
किसानों की मांग है कि किसानों पर लाठी चार्ज का आदेश देने वाले एसडीएम सिन्हा को तत्काल सस्पेंड कर उनपर हत्या की धाराएं लगाई जाए, क्योंकि लाठी चार्ज में किसान सुशील काजल की मौत हो गई थी।मृतक सुशील काजल के परिजनों को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देकर उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए।एसडीएस सिन्हा का एक और बयान काफी चर्चा में आया था जहां वह पुलिसकर्मियों को कह रहे थे कि यह बहुत सिंपल और स्पष्ट है।कोई कहीं से हो, उसके आगे नहीं जाएगा। अगर जाता है,तब लाठी से उसका सिर फोड़ देना, कोई निर्देश की जरूरत नहीं है। 
बता दें कि इस मसले पर किसानों और सरकारी अफसरों के बीच दो-तीन राउंड की वार्ता हुई है।लेकिन ये वार्ता किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है।सरकारी प्रतिनिधियों का कहना है कि किसान बिना जांच के कार्रवाई चाहते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हो सकता है। वहीं मुद्दे पर हरियाणा के गृह मंत्री विज ने कहा है कि हम निष्पक्ष जांच कराने को तैयार हैं और करनाल एपिसोड की जांच हुई तब अधिकारी, किसान या किसान नेता, जो भी दोषी हुए उन पर सख्त कार्रवाई भी होगी। लेकिन उन्होंने ये भी स्पष्ट कर दिया कि किसी के कहने पर किसी को फांसी नहीं चढ़ा सकते। विज ने कहा कि किसानों की सिर्फ जायज मांग ही मानी जाएगी।

From around the web