शरद पवार को लेकर मराठी अभिनेत्री ने किया था आपत्तिजनक पोस्ट, गिरफ्तार

 
प

ठाणे। नवी मुंबई पुलिस ने मराठी अभिनेत्री केतकी चितले को गिरफ्तार कर लिया, जिन्होंने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार पर निशाना साधते हुए एक आपत्तिजनक पोस्ट साझा की थी। उनकी ओर से आपत्तिजनक पोस्ट साझा किए जाने पर राजनीतिक दलों ने एकजुट होकर उनकी निंदा की है।

इस घटनाक्रम के बाद एनसीपी नेता स्वप्निल नेटके द्वारा 30 वर्षीय चितले के खिलाफ कलवा पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई गई, जिन्होंने पवार को 'बदनाम' करने वाली एक मराठी कविता साझा की थी, जिससे राजनीतिक हंगामा हुआ।

इसके बाद, उन्हें हिरासत में लेकर नवी मुंबई के कलंबोली पुलिस स्टेशन ले जाया गया, जहां उन्हें गिरफ्तार कर लिया। उनके खिलाफ मुंबई, नासिक, पुणे और विभिन्न शहरों में अन्य शिकायतें भी दर्ज की गई हैं।

पुलिस थाने के बाहर नाराज महिला कार्यकर्ताओं के एक समूह ने उनके खिलाफ नारेबाजी की और जब उन्हें वैन में ले जाया जा रहा था तो किसी ने उन पर स्याही फेंक दी।

शुक्रवार को चितले ने नितिन भावे नाम के एक वकील द्वारा कथित रूप से लिखी गई एक कविता को अपने फेसबुक वॉल पर फॉरवर्ड किया था, जिसने एक राजनीतिक विवाद को जन्म दे दिया। उस कविता में इस्तेमाल की गई अभद्र भाषा के लिए अभिनेत्री को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया गया है।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एनसीपी, शिवसेना, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, भाजपा, एमएनएस और कई अन्य लोगों ने उन्हें फटकार लगाई है। अधिकांश ने कहा है कि उन्होंने अपना 'मानसिक संतुलन' खो दिया है और उन्हें तत्काल मनोरोग उपचार की जरूरत है।

एनसीपी नेता मजीद मेमन, जयंत पाटिल, जितेंद्र आव्हाड, छगन भुजबल, दिलीप वालसे-पाटिल, रूपाली चाकणकर, शिवसेना के संजय राउत, राज्यमंत्री किशोर तिवारी, मुंबई की पूर्व मेयर किशोरी पेडनेकर, भाजपा नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय राज्यमंत्री राव साहेब दानवे-पाटिल, राज ठाकरे और अन्य मंत्रियों और नेताओं ने चितले की आलोचना की है।

हालांकि, एक मीडिया ब्रीफिंग में मुस्कुराते हुए पवार आलोचना से विचलित नहीं हुए और उन्होंने दावा किया कि उन्होंने न तो अभिनेत्री के बारे में सुना है और न ही उनके सोशल मीडिया पोस्ट को पढ़ा है और उन्हें यह भी नहीं पता था कि उन्हें पुलिस ने क्यों हिरासत में लिया है।

हाल ही में पवार पर 'जातिगत राजनीति' करने का आरोप लगाने वाले मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने चितले प्रकरण में उनका बचाव करते हुए कहा, "मराठी संस्कृति में ऐसी चीजों का कोई स्थान नहीं है और मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।"

राज ठाकरे ने एक बयान में कहा, "विचारों के मतभेदों को वैचारिक स्तर पर लड़ा जाना चाहिए। मेरी शरद पवार से असहमति हो सकती है, लेकिन इस तरह के लेखन एक विक्षिप्त दिमाग को प्रदर्शित करते हैं और इसे समय पर रोका जाना चाहिए।"

अभिनेत्री के खिलाफ मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई, पुणे, नासिक और अन्य जगहों पर शिकायत दर्ज की गई है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नेटके ने अपनी शिकायत में कहा है कि चितले की मानहानिकारक पोस्ट से पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और लोगों में आक्रोश है और इससे कानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है।

नेटके ने आगे कहा, "केतकी चितले ने इस तरह की पोस्ट से विभिन्न जातियों और पार्टियों के बीच दुश्मनी पैदा की है। हमने उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है और उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है।"

चितले ने कुछ टेलीविजन धारावाहिकों में काम किया है, लेकिन उन्होंने सीरीज 'तुजा मजा ब्रेकअप' के लिए प्रसिद्धि प्राप्त की थी। वह सोशल मीडिया पर विवादित बयान देने के लिए जानी जाती हैं।

यह घटनाक्रम कुछ लोगों द्वारा ट्विटर पर पवार को 'जान से मारने की धमकी' जारी करने के एक दिन बाद सामने आया है, जिसमें महाराष्ट्र पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

 

From around the web