सलमान खान ने जिन काले हिरणों का शिकार किया, उ्नकी याद में राजस्थान में बनेगा स्मारक

 
ब
जयपुर। जोधपुर में एक शांतिपूर्ण क्रांति चल रही है, जहां बिश्नोई समुदाय के युवा 24 साल पहले बॉलीवुड स्टार सलमान खान द्वारा शिकार किए जाने के बाद कांकनी गांव में दफन किए गए काले हिरणों की याद में एक भव्य स्मारक बनाने के लिए धन इकट्ठा कर रहे हैं।

जब काले हिरण का शिकार किया गया तब सलमान खान के साथ अभिनेता सैफ अली खान, तब्बू और नीलम भी थे।

परियोजना से जुड़े युवाओं में से एक प्रेम सरन ने कहा कि जिस जमीन पर इन काले हिरणों को दफनाया गया था, वहां जल्द ही एक स्मारक होगा।

उन्होंने कहा कि स्मारक में एक काले हिरण की मूर्ति होगी और उस जमीन पर 1,000 पेड़ लगाए जाएंगे जहां जानवर को दफनाया गया था। उनके समुदाय के कुछ युवा लड़कों ने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है जिसने फंड संग्रह अभियान शुरू किया है। वे प्रत्येक व्यक्ति से लगभग 500 से 1000 रुपये एकत्र कर रहे हैं ताकि कम से कम लगभग 2 लाख रुपये तक धन एकत्र किया जा सके।

प्रेम ने कहा कि हाल ही में, जेसीबी मशीनों के साथ एक टीम मलबे की भूमि को साफ करने के लिए आई थी और अब हम पेड़ लगाना शुरू करेंगे और एक काले हिरण की मूर्ति का निर्माण करेंगे। स्मारक करीब एक साल में बन जाएगा।

उन्होंने कहा, "इसमें समय लगने का कारण यह है कि पेड़ों को बढ़ने में समय लगता है। हम चाहते हैं कि हिरण, काला हिरण और अन्य जानवर यहां रहते हुए जंगल का अनुभव करें। कई हिरण लोगों के वहां से गुजरने पर डर से मर जाते हैं, इसलिए हम उन्हें सुरक्षित महसूस कराना चाहते हैं।

यह वह भूमि है जहां हिरण और काले हिरण को खुलेआम घूमते देखा जा सकता है। दरअसल, 24 साल पहले भी वे यहां खुलेआम घूम रहे थे, जब सलमान खान ने उन्हें अन्य सितारों के साथ मिलकर मार डाला था।

हम नहीं चाहते कि इसे कभी दोहराया जाए और इसलिए हम घने जंगल बनाएंगे ताकि जानवर इसकी हरी-भरी परिधि में सुरक्षित रहें।

From around the web