महिला सिपाही के साथ अश्लील वीडियो मामले में गिरफ्तार पुलिस अफसर 7 दिन की पुलिस रिमांड पर 

 
न

जयपुर। सोशल मीडिया पर वायरल हुए स्विमिंग पूल के आपत्तिजनक वीडियो प्रकरण में राजस्थान स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) की स्पेशल विंग की ओर से उदयपुर से गिरफ्तार किए गए निलंबित आरपीएस हीरालाल सैनी को शनिवार को पोक्सो कोर्ट के मजिस्ट्रेट के आवास पर पेश किया गया। जिस पर मजिस्ट्रेट ने सैनी को सात दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। सैनी 17 सितंबर तक एसओजी की हिरासत में रहेगा और इस मामले को लेकर एसओजी गहनता से पूछताछ करेगी।

एटीएस एवं एसओजी, के एडीजी अशोक राठौड़ ने बताया कि एसओजी की टीम हीरालाल सैनी को शुक्रवार को जयपुर से अजमेर लेकर गई थी, जहां पुष्कर में उसके रिसोर्ट में होने की तस्दीक की गई जहां पर आपत्तिजनक वीडियो बनाया गया। उसके बाद शनिवार सुबह अजमेर में हीरालाल सैनी का मेडिकल करवाने और कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद लेकर जयपुर पहुंची और फिर पोक्सो कोर्ट में अवकाश होने के चलते एसओजी टीम ने हीरालाल को मजिस्ट्रेट रेखा शर्मा के आवास पर पेश किया। जहां से मजिस्ट्रेट ने हीरालाल को 17 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर एसओजी को सौंपा है। मजिस्ट्रेट के आवास पर हीरालाल सैनी को पेश करने के बाद एसओजी की टीम उसे लेकर एसओजी मुख्यालय के लिए रवाना हो गई। वहीं वीडियो में दिखाई दे रही महिला कांस्टेबल पर एसओजी जल्द ही अपना शिकंजा कसेगी। फिलहाल इस पूरे मामले को लेकर एसओजी की जांच लगातार जारी है।

गौरतलब है कि निलंबित आरपीएस हीरालाल सैनी का एक महिला कांस्टेबल और छह साल के मासूम के साथ स्विमिंग पूल में अश्लील हरकत करते हुए का दो मिनट से अधिक का वीडियो वायरल हुआ था। जिस पर तुरंत एक्शन लेते हुए पुलिस मुख्यालय ने विभागीय जांच का हवाला देते हुए हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल को निलंबित करते हुए पोक्सो एक्ट के तहत एसओजी ने हीरालाल सैनी को गिरफ्तार किया था।

From around the web