चूहों ने किसान के 2 लाख रुपये कुतर डाले, मदद के लिए मंत्री आईं आगे, करायेंगी ईलाज 

 
1
हैदराबाद। तेलंगाना की जनजातीय, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री सत्यवती राठौड़ एक किसान की पेट की सर्जरी के लिए बचाए गए दो लाख रुपये चूहों द्वारा खा जाने के बाद उसकी मदद के लिए आगे आई हैं। मंत्री ने रविवार को किसान रेड्या नाइक को आश्वासन दिया कि वह जिस भी अस्पताल को पसंद करेंगे, उसकी सर्जरी की व्यवस्था करेंगे और उन्हें वित्तीय सहायता भी प्रदान करेंगे। उन्होंने सब्जी किसान के दुखद नुकसान की रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मदद की घोषणा की। उन्होंने किसान से मिलने और उन्हें सांत्वना देने के लिए मंडल राजस्व अधिकारी को प्रतिनियुक्त किया।

मंत्री ने कहा कि किसान को पैसे के नुकसान या उनकी बीमारी से निराश होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि उसे हर संभव मदद दी जाएगी। महबूबाबाद जिले के वेमुनूर गांव के किसान ने अपनी मेहनत की कमाई को कृन्तकों के हाथों गंवा दिया। चूहों द्वारा काटे गए अपने घर की अलमारी में रखे नोटों का हाल देखकर वह चिंता में पड़ गए। रेड्या नाइक ने अपने पेट की सर्जरी के लिए पैसे रखे थे। पेट से गांठ को हटाने के लिए सर्जरी के लिए उन्हें 4 लाख रुपये की जरूरत थी। कुछ बचत और रिश्तेदारों और दोस्तों से लिए गए उधार के साथ, उन्होंने नकदी को अलमारी में रख दिया था। मंगलवार को जब वह अस्पताल में पैसे जमा करना चाहते थे, तो उन्होंने अलमारी खोली, लेकिन 500 रुपये के नोट कटे हुए देखकर चौंक गए। सब्जी उगाने और उन्हें अपने दोपहिया वाहन पर बेचने वाले रेड्या नाइक ने कहा, "जब मैंने अलमारी खोली और बैग निकाला, तो मैं चौंक गया, क्योंकि नोट बिखरे हुए थे।" उन्होंने कटे हुए नोटों को नए नोटों से बदलने के अनुरोध के साथ महबूबाबाद में कई बैंकों से संपर्क किया, लेकिन अधिकारियों ने स्पष्ट किया कि यह संभव नहीं था। वह पैसे खोने से उदास थे और सर्जरी से गुजरने की उम्मीद खो चुके थे। 
जब किसान की दुर्दशा की बात जानकारी में आई तो उसी जिले के रहने वाली  मंत्री उनकी मदद के लिए आगे आई । किसान ने मंत्री को मदद के लिए धन्यवाद दिया।

From around the web