उत्तराखंड : तीन जिलों में आयकर की बड़ी कार्रवाई, कई प्रतिष्ठानों पर छापेमारी

 
्

देहरादून। भ्रष्टाचारी कारोबारियों की खैर नहीं। अब सरकार का आयकर विभाग पूरी तरह जाग गया है। देहरादून, ऋषिकेश, सहारनपुर में आयकर विभाग लगातार छापेमारी की कार्रवाई कर रहा है।

इस छापेमारी की कार्रवाई के तहत वे दुकानदार निशाने पर हैं, जिन्होंने आयकर अथवा इस तरह के करों की चोरी की है। सरकारी राजस्व पर डाका डालने वाले इन व्यापारियों पर की जा रही इस कार्रवाई का नेतृत्व अपर निदेशक ठाकुर मकवाल और उपनिदेशक रितेश भट्ट के नेतृत्व में की जा रही है। देहरादून, ऋषिकेश, सहारनपुर में चल रही इस छापेमारी की शुरूआत गुरुवार की प्रात:काल ही हो गई थी। आज ऋषिकेश के प्रतिष्ठित प्रापर्टी डीलर एवं फाइनेंसर और होटल व्यवसायियों के यहां एक साथ छह व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर छापेमारी की गई जिससे व्यापारियों, भू माफिया और प्रॉपर्टी डीलरों में खलबली मच गई है। इसके लिए पुलिस विभाग से फोर्स मांगी गई थी।

हरिद्वार मार्ग पर एमजे प्रॉपर्टी डीलर्स एवं जौहर फाइनेंसर के अतिरिक्त रेलवे मार्ग पर स्थित विलाना होटल में आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की। अवकाश होने के कारण आयकर विभाग की टीम सुबह से प्रतिष्ठान खुलने की प्रतीक्षा करती रही, लेकिन एमजे प्रॉपर्टी डीलर एवं जौहर फाइनेंसर एवा गढ़वाल होजरी का कार्यालय नहीं खुला। विलाना होटल खुला होने के कारण वहां पर छापेमारी की कार्रवाई की जा रही है।

देेहरादून के नेशविला रोड में एक के बाद एक आयकर विभाग की कई गाड़ियां पहुंचीं। कई निवेशकों और उद्योगपतियों के घर छापा पड़ा है। इनमें से अभी एमजे रेजिडेंसी के मालिक के घर पर छापा पड़ा है। विभागीय अधिकारियों ने छापे को लेकर कोई भी जानकारी देने से मना कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार 11 जगहों पर देहरादून, 6 ऋषिकेश, 13 सहारनपुर, 8 जगह दिल्ली में छापेमारी की कार्रवाई चल रही है। इसमें प्रमुख रूप से प्रसिद्ध व्यापारी मंजीत जौहर, राज लुंबा, मेहता बर्दस, भाटिया, नवीन कुमार मित्तल, नितिन गुप्ता आदि व्यापारियों के घरों और प्रतिष्ठानों पर छापेमारी की कार्रवाई की जा रही है।

From around the web