उत्तराखंड : अब 13 हजार श्रद्धालुओं को रोजाना केदारनाथ धाम जाने की अनुमति

 
म

देहरादून। चार धाम यात्रा में व्यवस्था बनाए रखने के लिए उत्तराखंड सरकार लगातार सक्रिय है। प्रदेश सरकार की ओर से समय-समय पर यात्रियों के लिए सुझाव जारी किये जा रहे हैं। ताकि उन्हें यात्रा में किसी प्रकार की दिक्कत न हो। इसी सिलसिले रविवार को सरकार ने केदारनाथ धाम जाने के लिए श्रद्धालुओं की संख्या तय कर दी है।

चार धाम के कपट खुलने के साथ ही देश-दुनिया से लाखों श्रद्धालु यात्रा पर पहुंच रहे हैं। उम्मीद से बहुत अधिक यात्रियों के आ जाने से कई स्थानों पर अव्यवस्था की खबरें आने लगी हैं। यहां तक की कई श्रद्धालुओं की मौत भी हो गई। इस कारण सरकार ने अब एक दिन में केदारनाथ जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 13 हजार तय कर दी है।

अब एक दिन में 13 हजार से ज्यादा श्रद्धालु केदारनाथ धाम नहीं जा सकेंगे। वह भी रजिस्ट्रेशन करा कर ही जा सकेंगे। बिना रजिस्ट्रेशन के श्रद्धालु कोई भी धाम नहीं जा सकेंगे। बिना रजिस्ट्रेशन वाले श्रद्धालु को वापस लौटना पड़ सकता है।

रुद्रप्रयाग के पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने बताया कि केदारनाथ धाम जाने वाले यात्रियों की संख्या 13 हजार तय कर दी गई। इससे ज्यादा को केदारनाथ जाने की अनुमति नहीं होगी।

रुद्रप्रयाग पुलिस रजिस्ट्रेशन जांच करने में सख्ती बढ़ा दी है। पुलिस दिन एवं रात्रि में आने वाले श्रद्धालुओं के रजिस्ट्रेशन की सख्ती से जांच कर रही है। बिना रजिस्ट्रेशन वाले यात्रियों को विनम्रता पूर्वक वापस भेजा जा रहा है। पुलिस के अनुसार 12 मई से अब तक 1000 यात्रियों को रजिस्ट्रेशन न होने के कारण वापस लौटा दिया गया है।

From around the web