नैनीतालः करोड़ों रुपये हड़पने वाले चेयरपर्सन की जमानत अर्जी खारिज

 
1

नैनीताल। जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेंद्र जोशी की अदालत ने लखनऊ की कैमुना क्रेडिट कॉरपोरेशन लिमिटेड के सीएमसी चेयरपर्सन प्रदीप अस्थाना पुत्र कैलाशनाथ अस्थाना निवासी शाही सदन अलीगंज लखनऊ की जमानत अर्जी मंगलवार को खारिज कर दी। प्रदीप पर आरोप है कि उसने उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में अनेक शाखाएं खोलकर खाताधारकों से उनके उनके खातों में एफडी, चालू खाते व विभिन्न मदों में निश्चित समयावधि के लिए करोड़ों रुपये जमा करवाए और परिपक्वता अवधि पूरी होने के बाद फरार हो गया व जमाकर्ताओं के पैसे नहीं लौटाए। 

जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील कुमार शर्मा ने आरोपित की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए न्यायालय को बताया कि 28 सितंबर 2020 को इसी कंपानी की पवलगढ़ कालाढुंगी शाखा के मैनेजर लक्ष्मण सिंह पुत्र देव सिंह ने उसके विरुद्ध जमा कराए गए 8 लाख 88 हजार 645 रुपये, रामनगर के शाखा प्रबंधक आनंद जोशी ने लगभग 22 लाख, कठघरिया के शाखा प्रबंधक गुरुप्रकाश पुत्र लछम सिंह ने भी रुपये हड़पने के आरोप लगाए थे। आरोपित ने इसी तरह देश के 9 राज्यों में 300 शाखाएं खोलकर करोड़ों रुपये हड़पे। इस पर उसके खिलाफ अनेक थानों में मुकदमे दर्ज हुए और उसे टनकपुर में दर्ज मुकदमे में गिरफ्तार किया गया। इसलिए उसे जमानत नहीं दी जा सकती। इस पर न्यायालय ने उसकी जमानत अर्जी खारिज कर दी। 

From around the web