खटीमा से ही लड़ूंगा विधान सभा चुनाव - पुष्कर सिंह धामी

 
न
नई दिल्ली / देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि वो खटीमा विधान सभा सीट से ही विधान सभा चुनाव लड़ेंगे। धामी वर्तमान में खटीमा से ही विधायक हैं और वे 2012 और 2017 में लगातार दो बार यहां से चुनाव जीत चुके हैं। हालांकि इसके साथ ही उन्होने यह भी साफ किया कि इस बारे में पार्टी का फैसला अंतिम होगा और पार्टी उन्हें जहां से चुनावी मैदान में उतारने का फैसला करेगी , उन्हे मंजूर होगा। उन्होने जल्द ही उम्मीदवारों की घोषणा होने की बात कहते हुए यह भी बताया कि पार्टी 'अबकी बार 60 पार' के नारे के साथ चुनावी मैदान में उतरने जा रही है।

देहरादून में भाजपा कोर कमेटी और प्रदेश की चुनाव समिति की बैठक के बाद धामी ने कहा कि खटीमा उनकी जन्मभूमि और कर्मभूमि रही है इसलिए वह खटीमा से ही चुनाव लड़ेंगे। हालांकि इसके साथ ही उन्होने इस संबंध में पार्टी के फैसले को अंतिम और स्वीकार्य बताते हुए कहा कि पार्टी उन्हे जहां से भी चुनावी मैदान में उतारने का फैसला करेगी, उन्हे मंजूर होगा।

आपको बता दें कि, राज्य में दोबारा सरकार बनाने के लक्ष्य को लेकर उतरी भाजपा ने उम्मीदवारों के चयन के लिए कई स्तर पर विचार-मंथन किया है। राज्य में विधान सभा, मंडल और जिला स्तर पर उम्मीदवारों को लेकर चर्चा की गई, जिसके आधार पर संभावित उम्मीदवारों की सूची तैयार की गई। इस सूची पर शनिवार को प्रदेश कार्यालय में केंद्रीय मंत्री एवं चुनाव प्रभारी प्रल्हाद जोशी की अध्यक्षता में हुई पार्टी कोर कमेटी और प्रदेश की चुनाव समिति की बैठक में विस्तार से चर्चा की गई।

बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं और नेताओं में बड़ा उत्साह है , हम अपनी जीत को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त है और इस बार पार्टी 'अबकी बार 60 पार' के नारे के साथ चुनावी मैदान में उतरने जा रहे हैं।

आपको बता दें कि , पार्टी की प्रदेश इकाई और चुनाव समिति द्वारा मंजूर किए गए नामों की सूची को भाजपा आलाकमान के पास भेजा जाएगा। दिल्ली में पार्टी आलाकमान पहले कोर कमेटी के नेताओं के साथ उम्मीदवारों को लेकर विचार मंथन करेगी और फिर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में भाजपा की केन्द्रीय चुनाव समिति और संसदीय बोर्ड की बैठक में उम्मीदवारों के नाम पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी। भाजपा सूत्रों के मुताबिक 19 या 20 जनवरी तक उत्तराखंड के उम्मीदवारों का नाम फाइनल हो जाएगा।

आपको बता दें कि , उत्तराखंड में सभी 70 विधानसभा सीटों पर एक ही चरण में 14 फरवरी को मतदान होगा। 2017 के पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को 46.5 प्रतिशत मत के साथ 56 सीटों पर जीत हासिल हुई थी, जबकि 33.5 प्रतिशत मत पाने के बावजूद कांग्रेस को केवल 11 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा था।

From around the web